Dhar news : 2 साल की मासूम को बचाने तेंदुए के पीछे भागे परिजन, 3 घंटे बाद बच्ची ने तोड़ा दम

प्रभु इमलियार अपने परिवार को लेकर खेत पर सोयाबीन काटने के लिए गया था। शाम को वापस घर जाने की तैयारी कर रहे थे तभी तेंदुए ने उसकी 2 साल की बच्ची पर हमला कर दिया।

धार, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के धार जिले (Dhar district) से बड़ी दुर्घटना की खबर सामने आई है जहां एक खूंखार तेंदुए (Leopard) ने 2 साल की मासूम को अपना शिकार बना लिया। खेत में काम कर रहे मां-बाप के सामने ही तेंदुआ बच्ची को मुंह में दबाकर तेजी से भाग निकला। बच्ची को बचाने के लिये उसके मां-बाप ने तेंदुए के पीछे दौड़ लगा दी, उसपर पत्थरों से वार किया जिसके शोर-शराबे से डर कर तेंदुआ बच्ची को खाई के पास छोड़कर जंगल की ओर भाग गया। वहीं बच्ची को गंभीर हालत में अस्पताल पहुंचाया गया जहां उसने इलाज के दौरान अपना दम तोड़ दिया।

ये भी पढ़ें- PM Modi महाष्टमी में देश को देंगे बड़ी सौगात, लॉन्च करेंगे महत्वपूर्ण प्लान

मामला धार जिले के अमझेरा के कड़दा गांव की है। यहां मंगलवार की शाम प्रभु इमलियार अपने परिवार को लेकर खेत पर सोयाबीन काटने के लिए गया था। काम करते वक्त दंपती ने खेत में ही एक जगह पर 3 बच्चों को पास-पास ही सुला दिया। शाम होने पर परिवार वाले घर लौटने की तैयारी में थे तभी प्रभु ने देखा की उसकी 2 साल की बेटी को तेंदुए ने मुंह में जकड़ा हुआ है। वह अपनी बच्ची को बचाने के लिये जैसे ही आगे बढ़ा तो तेंदुए ने जंगल की ओर दौड़ लगा दी। परिजन बच्ची को बचाने तेदुए के पीछे भागे और शोर मचाते हुए उसपर पत्थर फेंके जिससे डर कर तेंदुआ बच्ची को खाई के पास छोड़कर जंगल की तरफ भाग गया।

घटना में बच्ची को गंभीर हालत में देख परिजन उसे तत्काल अमझेरा के अस्पताल लेकर पहुंचे। यहां पर प्राथमिक उपचार के बाद मासूम बच्ची को गंभीर स्थिति में धार रेफर किया गया जहां धार में डॉक्टरों ने बच्ची को बचाने की कोशिश की, लेकिन तीन घंटे इलाज के बाद उसकी मौत हो गई।