खुद पर लगे आरोपों से आहत भाजपा नेत्री, SP को लिखा पत्र

धार, डेस्क रिपोर्ट। पूर्व मंत्री रंजना बघेल ने एसपी धार को एक पत्र लिखा है और इसमें लिखा है कि उनका और उनके भांजे सुखराम का शराब तस्करी के मामले से कोई संबंध नहीं है। उन्होने इस पत्र में सुखराम को अपना भांजा बताया है लेकिन लिखा है कि शराब तस्करी और किसी अन्य घटना से उनका कोई लेना देना नहीं है। उन्होने अपने दो मोबाइल नंबर मुहैया कराते हुए कहा है कि कॉल डिटेल निकालकर उनके संपर्क और बाकी जांच की जा सकती है।

26 सितंबर से मैहर रुकेगी 16 एक्सप्रेस ट्रेनें, 29 को भोपाल से चलेगी स्पेशल, 8 में लगेंगे अतिरिक्त कोच, 10 के रूट बदले, कई रद्द

इस पत्र में पूर्व मंत्री ने लिखा है कि उनके 23 भांजे-भांजियां है और रेत या दारू के ठेकेदारों से उनका संबंध नहीं है। रंजना बघेल ने आरोप लगाया कि वो एक आदिवासी महिला हैं और इस प्रकार के आरोप लगाकर उनकी छवि धूमिल करने की कोशिश की जा रही है। उन्होने ये खबर प्रकाशित करने वाले पत्रकारों का नाम देते हुए उनपर एससी-एसटी एक्ट के तहत कार्रवाई करने की मांग की है। उन्होने लिखा है कि सुखराम उनका भांजा है लेकिन वो अलीराजपुर में रहता है और वे धार कुक्षी में रहती हैं। उन्होने उसके किसी भी आपराधिक गतिविधि में लिप्त होने की बात से इनकार करते हुए आरोप लगाया कि उन्हें मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है।

बता दें कि धार में अवैध शराब से भरे ट्रक को पकड़ने के लिए जब एसडीएम नवजीवन विजय पंवार व डही नायब तहसीलदार राजेश भिड़े कार्रवाई कर रहे थे तो उनपर शराब माफिया ने जानलेवा हमला कर दिया था। इस मामले में मुख्य आरोपी के रूप में सुखराम का नाम सामने आया था और उसे पूर्व मंत्री रंजना बघेल का भांजा बताया गया था। अब रंजना बघेल ने खुद स्वीकर किया है कि सुखराम उनका भांजा है, लेकिन उन्होने उसके किसी भी तरह की आपराधिक गतिविधि में लिप्त होने की बात से इंकार किया है।

खुद पर लगे आरोपों से आहत भाजपा नेत्री, SP को लिखा पत्र