सीईओ की कार्यशैली से नाराज पूरी जनपद ने एक साथ दे दिया इस्तीफा

धार| अधिकारियों की कार्यशैली का मामला आय दिन प्रदेश में चर्चा का विषय बनता है| अब मामला दर्ज जिल से है जहां सरदारपुर जनपद पंचायत के सीईओ की कार्यशैली से असंतुष्ट होकर भाजपा और कांग्रेस समर्थित 18 सदस्यों जनपद सदस्यों ने एक साथ इस्तीफा दे दिया| जनपद में कुल 25 वार्ड है जिनमें 18 जनपद सदस्य सामूहिक इस्तीफे के समय मौजूद थे।

दरअसल, सरदारपुर जनपद पंचायत के सीईओ और बाबू के खिलाफ सभी जनपद सदस्य एक जुट हो गए हैं| सभी सदस्यों ने CEO और बाबू के खिलाफ खुद के साथ दोयम दर्जे का व्यवहार करने का आरोप लगाया है।  पूरा घटनाक्रम शुक्रवार शाम का है जब जनपद पंचायत के सभा कक्ष में सामान्य सभा की बैठक में सीईओ के विरुद्ध निंदा प्रस्ताव पास कि या गया। इसके बाद जनपद अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं सभी जनपद सदस्यों ने सीईओ पंकज दरोठिया की कार्यशैली से असंतुष्ट होकर सामूहिक रुप से अपने पदों से त्याग पत्र दे दिया। सामूहिक त्याग पत्र की प्रति जनपद पंचायत कार्यालय पर आवक-जावक शाखा एवं एसडीएम कार्यालय पर नायब तहसीलदार प्रकाश परिहार को सौंपी गई।

सदस्यों ने जनपद पंचायत के बाबू मनोज बैरागी पर भी गंभीर आरोप लगाए हैं| जनपद पंचायत में जनपद सदस्यों की बैठक समय पर नहीं बुलाने, बैठक के दौरान सदस्यों द्वारा अपने क्षेत्र की समस्याओं को रखने एवं लिखित शिकायत दर्ज कराने के बावजूद सीईओ द्वारा समस्याओं का समाधान नहीं कि या जाता है। बैठक के दौरान सदस्यों को आधी-अधूरी जानकारी दी जाती है। इससे सदस्य खासे नाराज हैं। सदस्यों का आरोप है कि जनपद सदस्य होने के बावजूद क्षेत्र की जानकारी नहीं होना हमारे लिए दुख का विषय है। ऐसे में सदस्यों ने सामूहिक रुप से त्याग पत्र दे दिया।