इंटरस्टेट बाइक चोर अध्यापक बन काट रहा था फरारी, पुलिस ने हिरासत में लिया

धार ।। राजेश डाबी ।

मध्य प्रदेश के धार जिले में पुलिस ने इंटरस्टेट बाइक चोर को हिरासत में लिया है. आरोपी लंबे समय से जिले में अध्यपक बनकर फरारी काट रहा था। आरोप है कि वह मुंबई से बाइक चोरी कर उसे बेचता था। यही नहीं बाइक के अलावा मोबाइल भी चोरी करने की वारदात को अंजाम दिया जाता था। इस मामले में इंदौर एसटीएफ और भोपाल एसटीएफ को निर्देश दिए गए थे। 

जानकारी के मुताबिक, मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई थी कि जालौन उत्तर प्रदेश के रहने वाले दो व्यक्ति मुम्बई में कोई वारदात घटित कर नारायणपुर दिग्ठान जिला धार के किसी स्कूल में अध्यापक बन फरारी काट रहे है और कोई बडी वारदात करने की फिराक में है।  प्राप्त सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराये जाने एवं अनुमति प्राप्त होने पर एस.टी.एफ. इकाई इन्दौर की टीम को नारायणपुर दिग्ठान जिला धार रवाना किया जाने पर मुखबिर के बताये अनुसार जालौन उत्तरप्रदेश के दो संदिग्ध आशीष कुमार कुशवाह पिता शिवकुमार कुशवाह उर्फ भूरे उर्फ अंश राज उर्फ नाजिम उम्र 21 साल निवासी मोहल्ला धर्मशाला जालौन उत्तरप्रदेश एवं सुनिल कुशवाह पिता रामअवतार कुशवाह उम्र 22 साल निवासी ग्राम बघावली पोस्ट रूद्रपुरा जिला जालौन उ.प्र. का अध्यापक के रूप में कार्य करना पाया गया। 

एस. टी.एफ. टीम द्वारा संदिग्ध आशीष कुशवाह को हिरासत में लेकर कडाई से पूछताछ करने पर उसके द्वारा बताया गया कि वह मूलतः जालौन उत्तरप्रदेश का निवासी होकर सेठ वीरेन्द्र कुमार स्नातकोत्तर महाविद्यालय से बी.एस.सी. की पढाई कर रहा था जिसने अपने साथी मोनू पिता अशोक खरे और अपने मामा के लडके सुनिल कुशवाह निवासी जालौन के साथ मिलकर नेरूल नवी मुम्बई में एक मोटर सायकल चुराई थी। इस घटना के अगले दिन तीनो संदिग्धों ने जुहु बीच के पास एक महिला का पर्स छीन लिया था जिसमें डेबिट कार्ड क्रेडिट कार्ड पर्स में रखे 4500 रूपयें तथा सोने का आयटम मिला था। 

घटना के बाद आशीष कुशवाह एवं सुनिल कुशवाह इन्दौर आकर धार दिग्ठान में अध्यापक का कार्य करने वाले अपने मित्र के माध्यम से वहां जाकर अध्यापन कार्य कराने लगे थे। आरोपी आशीष कुशवाह को हिरासत में लेकर वनराई पुलिस मुम्बई के सहायक पुलिस निरीक्षक भारत घोने एवं उनकी टीम को सुपुर्द किया गया है।  आरोपी आशीष कुशवाह की गिरफतारी में एस.टी.एफ. टीम के निरीक्षक गोपाल सूर्यवंशी उप निरीक्षक श्यामकिशोर त्रिपाठी सउनि अमित दीक्षित प्र.आर. झनकलाल पटेल आर. विराट यादव विवेक द्विवेदी रविन्द्र कुन्तल भीषमपाल सिंह सुभाष कोठे की उल्लेखनीय भूमिका रही है।