धार में मॉब लिंचिंग..एक की मौत पांच घायल, बच्चा चोरी के आरोप में भीड़ ने बेदर्दी से पीटा

राजेश डाबी/धार। एक बार फिर मॉब लिंचिंग ने एक मासूम की जान ले ली। इस बार मध्यप्रदेश शर्मसार हुआ है जहां धार जिले के मनावर क्षेत्र में भीड़ ने पीट पीटकर एक व्यक्ति को मार डाला और पांच अन्य को घायल कर दिया, जिनमें से दो की हालत नाज़ुक बनी हुई है।

घटना बोरलाई गांव की है और पैसों के लेनदेन को लेकर सारी घटना को अंजाम दिया गया। जानकारी के मुताबिक घायल और मृतक किसान उज्जैन जिले के लिम्बा पिपलिया के रहने वाले हैं। बोरलाई इलाक में काम करने वाले कुछ मजदूरों ने इन किसानों से काम करने की एवज़ पैसे लिये थे लेकिन वो काम किया नहीं। बाद में उन्होने किसानों को अपने गांव में उनके पैसे वापस देने के लिये बुलाया। लेकिन जब ये किसान गांव पहुंचे तो उन्होने पैसे देने से इनकार कर दिया। बात बहस तक पहुंच गई जिसने शोर शराबे का रूप ले लिया। तभी किसी ने इनके बच्चा चोर होने की अफवाह फैला दी और ग्रामीणों ने इन्हें बच्चा चोरी के आरोप में घेर लिया। हालत ये हो गई कि गांववालों ने इनपर पत्थर, जूते चप्पल और लाठियों से बेदर्दी से हमला कर दिया और इनकी गाड़ी में तोड़फोड़ कर आग भी लगा दी। इस दुखद घटना में एक व्यक्ति की मौत हो गई है जबकि पांच अन्य बुरी तरह घायल हुए हैं।

घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची घायलों को अस्पताल भिजवाया गया, अस्पताल में ही एक व्यक्ति ने दम तोड़ दिया। घायलों में से दो की हालत गंभीर है, इन सभी को बड़वानी अस्पताल में रेफर किया गया है जहां उनका इलाज चल रहा है। मामले को तूल पकड़ता देख जिला पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रतापसिंह भी मनावर पहुंच गये और स्थिति का जायज़ा लिया। पुलिस ने धारा 307 और 302 के तहत जांच शुरू कर दी है और मामले की जांच की जा रही है।

घटना के दृश्य इस कदर खौफनाक है और इन्हें देखकर अंदाज़ा लगाया जा सकता है कि किस तरह भीड़ ने इन लोगों पर बेदर्दी से हमला किया। इस मॉब लिंचिंग ने एक बार फिर इंसानियत को शर्मसार कर दिया है और हमारे सामने फिर ये सवाल खड़े हो गए हैं कि आखिर इस तरह का भीड़तंत्र हमें किस ओर लेकर जाएगा। फिलहाल तो इस भीड़ ने एक घर को हमेशा के लिये दुख के अंधेरे में धकेल दिया है।