गर्मी बढ़ते ही पानी की किल्लत से परेशान लोग, जरा से पानी के लिये घंटों इंतज़ार

डिंडोरी/प्रकाश मिश्रा

ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति की समस्या हर साल की तरह फिर सामने आ खड़ी हुई है। शहर हो या गांव पानी का भीषण संकट देखने को मिल रहा है। मुख्यालय के वार्ड नं 3 सिद्ध टेकरी के बाशिंदे पानी की किल्लत के चलते परेशान हैं। वार्ड के रहवासियों का कहना है कि उनके घरों में निजी नल कनेक्शन लगाये गए हैं जिसके बिल का भुगतान नियमित किया जा रहा है, लेकिन नलों से पीने के लिये पर्याप्त मात्रा में पानी नही मिल रहा है जिस कारण सार्वजनिक नलों में पानी के लिए आना पड़ता है। यहां घंटो इंतजार के बाद मुश्किल से दो तीन डिब्बा पानी मिल पाता है। महिलाओं का कहना है कि हर साल यह समस्या सामने आती है जिसकी जानकारी वार्ड पार्षद नगर परिषद के अध्यक्ष सीएमओ सहित जिला प्रशासन को भी है किंतु किसी भी जिम्मेदार के द्वारा इसका कोई स्थाई समाधान अभी तक नहीं निकाला गया है। वार्डवासियों का कहना है कि नगर परिषद द्वारा पानी के टैंकर भी नियमित तौर से नही भेजा जा रहा है।

बता दें कि डिंडोरी नगर परिषद के द्वारा करोड़ों रुपए की लागत से नगर में जलापूर्ति के लिए शहरी नल जल योजना शुरू की गई थी इस योजना के संचालन का उद्देश्य जिला मुख्यालय के प्रत्येक वार्ड वासी तक पानी पहुंचाने का था। लेकिन मुख्यालय के वार्ड नंबर 3 की तस्वीरों को देखकर सहस ही अंदाज लगाया जा सकता है शहरी नल जल योजना का लाभ यहां के रहवासियों को कितना मिल रहा है। वहीं इस संबंध में नगर परिषद अध्यक्ष पंकज तेकाम ने वार्ड वासियों के द्वारा टैंकर से पानी उपलब्ध ना करवाने की बात को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि उनके द्वारा प्रतिदिन वार्ड नंबर 3 के सिद्ध टेकरी में प्रतिदिन टैंकर से पानी पहुंचाया जा रहा है इसके अलावा भी अन्य वार्डों मे जहां कहीं भी पेयजल की कमी पाई जाती है तो तत्काल पानी के टैंकर संबंधित वार्डों में पहुंचाए जा रहे हैं।