उज्जवला योजना के हितग्राही नहीं करा रहे हैं सिलेंडर रिफिलिंग, सब्सिडी हो सकती है वापस

डिंडौरी। प्रकाश मिश्रा। केंद्र सरकार उज्जवला योजना के अंतर्गत महिलाओं मुफ्त गैस सिलेंडर उपलब्ध करा रही है किंतु देखा जा रहा है कि उज्जवला योजना के लाभान्वित हितग्राही दूसरी बार सिलेंडर भरवाने में रुचि नहीं ले रहे हैं जिसके कारण हितग्राहियों को मिलने वाली अगली सब्सिडी की राशि उनके खाते में आना बंद हो सकती है।

एजेंसी से प्राप्त जानकारी के अनुसार योजना के अंतर्गत पात्र पंजीकृत हितग्राहियों को गैस सिलेंडर की राशि सीधे उनके खातों में दी जा रही है। वर्तमान समय में योजना के उपभोक्ताओं को अप्रैल से जून तक 3 माह की अवधि के लिए मुफ्त गैस सिलेंडर देने का प्रावधान केंद्र सरकार ने किया है। अप्रैल माह समाप्त होने को है ऐसे में भी उज्जवला योजना के कई हितग्राही हैं जिन्होंने मुफ्त सिलेंडर के लिए एजेंसी में बुकिंग नहीं कराई है जबकि उनके खाते में अप्रैल माह की राशि भी आ गई है बताया जा रहा है कि समय पर गैस सिलेंडर न लेने और बुकिंग न कराने पर उनकी अगले माह की सब सिटी उनके खाते में नहीं आ पाएगी ।

इस संबंध में संबंधित गैस एजेंसियों सहित पेट्रोलियम कंपनी ऐसे सभी उपभोक्ताओं को जानकारी देना प्रारंभ कर दिया है 30 अप्रैल 2020 के पूर्व बुकिंग कर सिलेंडर प्राप्त करने के लिए उपभोक्ताओं को कहा जा रहा है। बता दें कि उज्जवला योजना के अंतर्गत जिले में लगभग अठारह हजार उज्जवला गैस कनेक्शन बांटे गए हैं। इण्डेन एजेंसी मैनेजर के अनुसार योजना के अंतर्गत उपभोक्ताओं के खाते में जैसे ही राशि आती है उसे तत्काल सिलेंडर प्राप्त कर गैस की बुकिंग करवा लेना चाहिए और गैस रिफिल प्राप्त करते समय गैस एजेंसी को सिलेंडर का भुगतान भी करना चाहिए। ऐसा करने पर ही अगले सिलेंडर की बुकिंग होती है और सब्सिडी की राशि उनके खाते में आती है।