ऊर्जा मंत्री

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में बढ़ती बिजली दरों (Electricity rates) को लेकर भाजपा के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर (Pradyuman Singh Tomar) का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने शुक्रवार को मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि खर्चा बढ़ता है, तो दरें बढ़ानी पड़ती है। लेकिन हम पूरी कोशिश कर रहे है,बिजली की दरें कम रहे। बिजली की दरें अनुरूप रहे, इसलिए हम विभाग के खर्चों में कटौती कर रहे हैं। कोरोना काल के बिलों का निराकरण किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें…Datia News: नरोत्तम मिश्रा ने मिशन नगरोदय के शुभारंभ में कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा तीन K ने किया प्रदेश को बर्बाद

बता दें कि दिसंबर 2020 में विद्युत नियामक आयोग (Electricity Regulatory Commission) ने बिजली की दरों में 1.98 प्रतिशत की वृद्धि की थी। पहले सिंगल फेस में 10 रुपए, थ्री-फेस में 25 रुपए और 10 किलोवाट (Kilowatt) से ऊपर भार के उपभोक्ताओं को 125 रुपए महीने मीटर किराया लगता था।

नए टैरिफ के अनुसार, घरेलू उपभोक्ताओं पर प्रति यूनिट 8 पैसे से 15 पैसे की बढ़ोतरी की गई है। इसके अलावा फिक्स चार्ज में भी 1 से 2 रुपए बढ़ाए गए है। वही उपभोक्ताओं अगर 50 यूनिट तक बिजली खर्च करते है तो उन्हें 5 रुपए अतिरिक्त देना होगा। इसी तरह 100 यूनिट पर 12 रुपए, 150 यूनिट पर 22.50 रुपए का असर पड़ेगा।

यह भी पढ़ें…Indore News: मास्क नहीं लगाने पर प्रशासन की सख्ती, एक हजार लोगों पर कार्रवाई