फर्जी पत्रकार संतोष जैन का ऑडियो वायरल, पेट्रोल पंप संचालक को धमकी देते हुए सुनिए क्या कहा

जबलपुर, संदीप कुमार। जबलपुर पुलिस की गिरफ्त में आए फर्जी पत्रकारों के रोजाना नित नए कारनामें सामने आ रहे हैं। ब्लैकमेल कर आम जनता को परेशान करना, क्राइम ब्रांच कर्मचारी बनकर लोगों को वसूली करना इस गैंग का ये कारनामा कई सालों से चल रहा था जिसका खुलासा अब हुआ है। पुलिस ने अभी तक 9 फर्जी पत्रकारों को गिरफ्तार किया है जबकि दो अभी भी फरार हैं जिनकी पुलिस तलाश कर रही है।

ये भी देखें- मध्यप्रदेश के गृहमंत्री के मुंह से सुनिये रेस्क्यू ऑपरेशन की पूरी कहानी

फर्जी गैंग को संचालित करने वाले संतोष जैन का ऑडियो वायरल हो रहा है जिसमें वह एक पेट्रोल पंप संचालक को धमकी दे रहे हैं। फर्जी पत्रकार संतोष जैन पंप संचालक से कह रहा है कि उसके पास अवैध मिट्टी तेल रखने वाले गोदाम के वीडियो है जो कि अगर अधिकारी के पास पहुँच जाएंगे तो उसके खिलाफ मामला दर्ज हो जाएगा। संतोष जैन अपने आपको एक बड़ा पत्रकार बताते हुए कहा रहा है कि मेरे पास चार बड़े चैनल है और मेरे साथ जो पत्रकार साथी है वो भी बड़े चैनल के रिपोर्टर है।

ये भी देखें- टोक्यो ओलंपिक में चला माधुरी दीक्षित का जादू, इजरायली स्विमर्स ने किया उनके सॉन्ग पर परफॉर्म

फर्जी पत्रकार संतोष जैन के वायरल ऑडियो में कहा जा रहा है कि आप अभी कहा है हम लोग आपके गोदाम के बाहर खड़े हुए है अगर आप अभी मिलने नही आए तो आप जानते हैं क्या होगा। फर्जी पत्रकारों के द्वारा पम्प संचालक से कहा जा रहा है कि धन्वंतरि नगर में मैने कई बड़ी खबरें कर निपटाया है और आप हमें जानते नहीं हैं। वायरल ऑडियो में संतोष जैन कह रहा है कि मेरा नाम संतोष जैन पत्रकार है शहर ने जिससे पता करना है कर लो, जो भी डिपो वाला है, पम्प संचालक है य मिट्टी तेल वाले सब जानते है। मुझे आपके जो भी अवैध मिट्टी तेल के काम चल रहे है उसके पूरे वीडियो मेरे पास है। संतोष जैन कह रहा है कि मैं एक माह से लगातार आपके गोदाम के वीडियो बना रहा हूँ।

ये भी देखें- राम मंदिर भूमि पूजन की पहली वर्षगांठ पर अयोध्या में खास तैयारियां, PM योजना के तहत आज 80 लाख लोगों को बंटेगा फ्री राशन

सोशल मीडिया में लगातार वायरल हो रहे ऑडियो को अब पुलिस अधिकारियों ने भी संज्ञान में लिया है। एएसपी  रोहित कासवानी का कहना है कि अभी तक करीब 9 फर्जी पत्रकारों को गिरफ्तार किया गया है। जो कि ब्लैकमेल-अवैध वसूली का काम किया करते थे। अब वायरल ऑडियो के आधार पर भी जाँच शुरू की जा रही है। इस खबर में एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ इस ऑडियो की पुष्टि नहीं करता है।