Neemuch : अब प्याज निकाल रहा किसानों के आंसू, मंडी में कम दामों में बिक्री से निराश किसान

नीमच में प्याज बेचने आ रहे किसानों को प्याज के सही भाव नहीं मिलने की वजह से वे अपनी लागत और भाड़ा नहीं निकाल पा रहा हैं। जिससे वे काफी नाखुश हैं।

नीमच, कमलेश सारडा। प्रदेश की सबसे बड़ी कृषि उपज मंडी नीमच में किसानों को प्याज के दाम सही नहीं मिलने से किसान निराश दिखाई दे रहे हैं। दरअसल कृषि उपज मंडी नीमच में किसान अपनी प्याज को बेचने के लिए आ रहे हैं, लेकिन उन्हें प्याज के सही भाव नहीं मिलने की वजह से किसान अपनी लागत और भाड़ा भी नहीं निकाल पा रहा हैं। जिससे वे काफी नाखुश हैं।

ये भी देखें- भोपाल में एक परिवार ने पिया जहर, दादी और पोती की मौत, तीन सदस्य जूझ रहे जिंदगी और मौत से

प्रदेश की सबसे बड़ी कृषि उपज मंडी नीमच में प्याज बेचने आए किसानों का कहना है कि उन्हें प्याज के लिये 2 रुपये प्रति किलो से लगाकर अधिकतम 12 रुपए प्रति किलो के भाव मिल रहे हैं। अच्छी क्वालिटी वाला प्याज जो पुराना है उसका भाव जरूर 18 रुपये प्रति किलो मिल रहा है लेकिन नीमच में सिर्फ 2 रुपये किलो ही मिल पा रहा है जिसकी वजह से किसान निराश और परेशान है। यहां तक की कुछ किसान तो प्याज का सही दाम नहीं मिलने की वजह से मंडी में ही प्याज के ढेर छोड़ कर चले गए। किसानों का कहना है कि फसल के लिये एक बीघा के अंदर 40 हजार रुपये का खर्च आता है, लेकिन मंडी में लाने के बाद किसान की लागत भी नहीं निकल पा रही है। वहीं मामले में मंडी निरीक्षक का कहना है कि इस बार क्षेत्र में अधिक वर्षा होने के कारण प्याज की क्वालिटी खराब हो गई है जिसकी वजह से प्याज कम दामों में बिक रहा है। वहीं नासिक में अधिक प्याज का उत्पादन होने से भी भाव का फर्क आ जाता है।