जनसभा में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच हुआ जमकर हंगामा, आरोप- प्रत्यारोप का चला दौर

जन समस्याओं को लेकर एसडीएम को एक ज्ञापन सौंपा गया है।

भिण्ड, गणेश भारद्वाज। जिले के गोहद विधानसभा क्षेत्र में विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस की जीत के सात महीने बाद जन समस्याओं को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बैठक आयोजित की गई। यहां कांग्रेस की जिला स्तर से लेकर विधानसभा स्तर के कार्यकर्ताओं की मीटिंग में पाँच घंटे तक लगातार हंगामा चलता रहा। हंगामे के दौरान कुछ कार्यकर्ता विधायक पर अनसुनी करने का आरोप लगाते रहे तो दूसरे कार्यकर्ता विधायक के पक्ष में उन्हीं कार्यकर्ताओं से विवाद करने पर भी आमादा हो गए।

ये भी देखें- Bank Holidays: जल्द निपटा लें जरुरी काम, 4 से 31 जुलाई के बीच 15 दिन बंद रहेंगे बैंकये भी देखें-

ऐसा ही एक नजारा मीटिंग के दौरान दो महिला कांग्रेस नेत्रियों के बीच देखने को मिला। जिसमें महिला नेत्री पिंकी जाटव ने गोहद में पानी संकट को लेकर मुद्दा उठाया तो कांग्रेस नेत्री मालती जाटव ने विधायक का पक्ष लेते हुए पिंकी जाटव को खूब खरी-खोटी सुनाई और एक दूसरे से माइक की छीना झपटी करती नजर आई। इतना ही नहीं और भी कई कांग्रेसी कार्यकर्ता स्थानीय विधायक मेवाराम जाटव पर आरोप-प्रत्यारोप करते हुए दिखाइ दिए तो वहीं कई कार्यकर्ता एक दूसरे की बात से असहमत होते दिखाई दे रहे थे।

ये भी देखें- नरोत्तम मिश्रा दतिया के दो दिवसीय दौरे पर, दाह संस्कार करने वाले कोरोना योद्धाओं का किया सम्मान

पूरे पाँच घंट चली मीटिंग के दौरान लगातार हंगामा होता रहा कार्यकर्ताओं का आरोप था कि चुनाव से पहले विधायक जी ने आश्वासन दिया था कि कोई भी संकट आएगा तो आपके बीच मिलूंगा लेकिन विधायक ने वह भी छोड़ दिया वहीं गोहद विधायक मेवाराम जाटव ने आखरी ब्रह्मास्त्र छोड़ते हुए कहा की प्रदेश में भाजपा की सरकार है और अधिकारी उनकी सुनते नहीं है, हंगामे के बाद गोहद विधायक मेवाराम जाटव के नेतृत्व में गोहद की जन समस्याओं को लेकर एसडीएम को एक ज्ञापन दिया है। इस हंगामे के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे है जिसके बाद कांग्रेस की अंतर कलह की जिले भर में खूब चर्चा है।