वन विभाग की सार्थक पहल से आदिवासी क्षेत्र के वन ग्रामों में शुरू हुआ वैक्सीनेशन, ग्रामीणों मे दिखा उत्साह

वैक्सीनेशन सेंटर शुरू होने के पहले दिन ही ग्रामीणों में अपार उत्साह देखने को मिला। बागली के तीन वैक्सीनेशन साइट्स पर लगातार लोगों की भीड़ पहुंची, जिससे कुछ ही देर में उपलब्ध कराये गये 600 डोज खत्म हो गए।

देवास, सोमेश उपाध्याय। टीकाकरण के प्रति अब ग्रामीण अंचलों में भी लोगों की मानसिकता बदलने लगी है। इसी कड़ी में देवास बागली अनुभाग में सुदूर आदिवासी अंचल के वन गावों में भी ग्रामीणों को वन विभाग के सहयोग से जागरुक किया जा रहा है। डीएफओ पीएन मिश्रा के निर्देशन में बागली एसडीओ अमित कुमार सोलंकी की पहल पर वन ग्रामों में वैक्सीनेशन सेंटर आरम्भ किया गया। गौरतलब है कि ग्रामीणों में टीकाकरण को लेकर गलत भ्रांति फैली हुई थी। इस वजह से इन क्षेत्रों में टीकाकरण के प्रति उदासीनता देखी जा रही थी। जिसको देखते हुए डीएफओ मिश्रा व एसडीओ सोलंकी ने विभाग के माध्यम से ग्रामीणों को जागरूक किया गया।

वन विभाग की सार्थक पहल से आदिवासी क्षेत्र के वन ग्रामों में शुरू हुआ वैक्सीनेशन, ग्रामीणों मे दिखा उत्साह

ये भी पढ़ें- पैदल जा रही महिला का पर्स छीनकर बदमाश फरार, घटना सीसीटीवी में कैद

इस दौरान सेंटर शुरू होने के पहले दिन ही ग्रामीणों में अपार उत्साह देखा गया। बागली उपवनमण्डल अंतर्गत आने वाले पुतलीपुरा, कंडिया, मगरादेह में वैक्सीन के 600 डोज उपलब्ध कराए गए थे। एसडीओ सोलंकी ने बताया कि तीनों साइट्स पर लगातार लोगों की भीड़ देखी गई और कुछ ही देर में लोगों को करीब 600 डोज लगा दिए गए। अब डिमांड लैटर बना कर अतिरिक्त स्लॉट की मांग करेंगे ताकि वन ग्रामों के नागरिक अधिक से अधिक लाभान्वित हो सकेवन विभाग की सार्थक पहल से आदिवासी क्षेत्र के वन ग्रामों में शुरू हुआ वैक्सीनेशन, ग्रामीणों मे दिखा उत्साह

 

ये भी पढ़ें- 7th Pay Commission:कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी, फिर बढ़ेगा DA! इतनी हो जाएगी सैलरी

वैक्सीनेशन को लेकर अब तक बड़ी पंचायतों में ही केंद्र बनाए गए थे। इसलिए सुदूर वन गांव के ग्रामीणों को टीकाकरण में परेशानीयां आ रही थी जिसके चलते उदयनगर तहसील में टीकाकरण का प्रतिशत भी बेहद कम थी। वहीं पहली बार स्वाथ्य और वन विभाग के सहयोग से शासन ने वन ग्रामों की सुध लेते हुए वन ग्राम में टीकाकरण किया गया है। टीकाकरण में स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ रेंजर वंदना ठाकुर, वन रक्षक सुनील गोलदार समेत अन्य जनों के सहयोग से ग्रामीणों का वैक्सीनेशन किया गया।