प्यार, दोस्ती और धोखा! 10 साल तक ब्वॉयफ्रेंड का खर्च उठाया, लोन से कार दिलाई, जब डॉक्टर बना तो किसी और से शादी रचाई

युवती ने आरोपी प्रेमी पर दुष्कर्म और धोखाधड़ी का आरोप लगाया है। वहीं मामले में आरोपी फरार है जिसकी पुलिस तलाश कर रही है।

धार, डेस्क रिपोर्ट। धार जिले के धरमपुरी में प्यार में धोखाधड़ी का एक ताज़ा मामला सामने आया है जहां प्रेमिका ने अपने ब्वॉयफ्रेड (Boyfriend) को काबिल बनाने के लिये उसका एक जीवनसाथी की तरह ख्याल रखा, लेकिन उस युवती को बदले में सिर्फ धोखा मिला।

जानकारी के अनुसार धरमपुरी में एक युवती ने अपने प्रेमी पर दुष्कर्म का आरोप लगाया है। उसने कहा कि जब लड़का गरीब था तो उसने ही उसकी पढ़ाई कराई। एमबीबीएस (MBBS) और पीजी (PG) की पढ़ाई का पूरा खर्च उठाया। लोन लेकर उसके लिये पक्का मकान बनवाया, लोन से ही बाइक और कार भी दिलवाई। अपने पैरों पर खड़ा होते ही प्रेमी डॉक्टर ने दूसरी शादी कर ली। अब प्रेमिका टीचर ने अपने प्रेमी के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया है। आरोप है कि प्रेमिका ने आरोपी की 10 साल की पढ़ाई पर कुल 46 लाख रुपए खर्च किए। ।

ये भी पढ़ें- मध्य प्रदेश में जल्द हो सकते है नगरीय निकाय चुनाव, आयुक्त ने दिए संकेत

स्कूल के समय से दोनों एक-दूसरे को करते थे प्यार

दोनों एक साथ स्कूल में पढ़े और पढ़ाई में अव्वल रहे। युवती 2009 में टीचर बन गई और लड़का डॉक्टर बनना चाहता था। घर की आर्थिक स्थिति खराब थी। एक ही समाज के होने के कारण लड़की के घर आना जाना था। दोनों एक-दूसरे को पसंद करते थे। घर वाले भी राजी थे, लेकिन अब डॉक्टर बनते ही लड़की को धोखा दे दिया। अब पीड़िता की रिपोर्ट पर डॉक्टर आरोपी के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। आरोपी डॉक्टर फरार है।

ये भी पढ़ें- Khandwa : महंगाई के खिलाफ महिला कांग्रेस का प्रदर्शन, सड़क पर चूल्हे पर चाय बनाकर किया विरोध

पुलिस में दुष्कर्म का मामला दर्ज

युवती ने पुलिस को बताया कि दिलीप पुत्र श्याम ठाकुर पड़ोस में पढ़ने के लिए रहने आया था। हम दोनों एक ही स्कूल पढ़े। हम दोनों एक दूसरे को पसंद करते थे और शादी करना चाहता थे। दिलीप ने नौकरी लगने के बाद शादी करने की बात कही थी। 2009 से मैं टीचर हूं। मैंने दिलीप की पढ़ाई-लिखाई का खर्चा उठाया। यहां तक की उसका घर अपनी सैलरी से बनवाया। बाइक और कार भी खरीदकर दी। डॉक्टर ने शादी की बात कहकर मेरे साथ पिछले 10 वर्षों में कई बार शारीरिक संबंध बनाए।

पीड़िता ने बताया कि 21 जून 2021 को बिना किसी को बताए प्रेमी डॉक्टर ने किसी और लड़की से शादी कर ली है। इसकी जानकारी आरोपी के मामा से मिली। युवती ने बताया कि आरोपी 2010 से लेकर 2019 तक शादी का झांसा देकर मेरे साथ दुष्कर्म करता रहा। उसने धोखा दिया है। मामले में जब शादी का पता चला तो पीड़िता ने धरमपुरी थाने में प्रेमी डॉक्टर के खिलाफ दुष्कर्म सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज करवाया। मामले में धार डीएसपी के यशस्वी शिंदे ने बताया कि युवती ने शिकायत दर्ज करवाई है। दुष्कर्म का प्रकरण पंजीबद्ध किया गया। दस्तावेजों का जांच की जा रही है। जांच उपरांत कार्रवाई की जाएगी। फरार आरोपी की तलाश की जा रही है।