शहीद के सम्मान में सरकार की बड़ी पहल,वन रक्षक के नाम से जानी जाएगी वन बीट

देवास(बागली), सोमेश उपाध्याय। देवास जिले के शहीद वन रक्षक (Shaheed Forest Guard) के सम्मान में प्रदेश सरकार ने बड़ी पहल करते हुए बागली उप वन मण्डल अंतर्गत ग्राम रतनपुर की वन बीट शहीद के नाम कर दी है। आज डीएफओ पीएन मिश्रा ने इसकी घोषणा करते हुए बताया कि वनमंडल देवास अंतर्गत रतनपुर बीट अब शहीद मदनलाल वर्मा के नाम से जानी जाएगी। डीएफओ ने इसके आदेश भी जारी कर दिए।

गौरतलब है कि बीती 4 फरवरी 2021 को मदनलाल वर्मा, वनरक्षक तत्‍कालीन बीटगार्ड की शिकारियों से मुठभेड़ हो गई थी, इसी दौरान गोली लगने से वनरक्षक वर्मा की मौत हो गई थी।बागली में वन विभाग के एसडीओ अमित कुमार सोलंकी ने बताया कि शहीद वर्मा की बहादुरी पर पूरे विभाग को गर्व है। उन्होंने अपने साहस का परिचय देते हुए पूरी निष्ठा के साथ कर्तव्य निर्वहन किया और अपराधियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हो गए। वन बीट का नाम वर्मा के नाम पर होने से उनका नाम क्षेत्र में हमेशा के लिए जुड़ जाएगा साथ ही अन्य लोगों को प्रेरणा भी मिलेगी।

ये भी पढ़ें – जांच समिति पर नरोत्तम का तंज – “न खाता,न बही,कांग्रेस जो कहे, वही सही”

वन-मंत्री ने घर पहुँच कर दिया था शहीद का दर्जा

वन रक्षक वर्मा की शहादत के बाद प्रदेश के वन मंत्री विजय शाह ने उनके उज्जैन स्थित निवास पहुँच कर शहीद का दर्जा दिया था। इसके साथ उनके पुत्र को भी नौकरी का नियुक्ति पत्र दिया था।

ये भी पढ़ें – MP News : नदी में नहाने गई नाबालिग तेज बहाव में बही, बचाव दल तलाश करने में जुटा

शहीद के सम्मान में सरकार की बड़ी पहल,वन रक्षक के नाम से जानी जाएगी वन बीट

शहीद के सम्मान में सरकार की बड़ी पहल,वन रक्षक के नाम से जानी जाएगी वन बीट