guna

गुना, संदीप दीक्षित। गुना (guna) वरिष्ठ अधिकारियों की प्रताड़ना से तंग आकर जहर खाकर आत्महत्या (suicide) करने वाले शिक्षक चंद्रमोलेश्वर मामले में गुना पुलिस (police) ने शिक्षा विभाग के चार अधिकारियों, कर्मचारियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। वहीं पुलिस ने शिक्षक की आत्महत्या के इस बहुचर्चित मामले में गुना ब्लॉक शिक्षा अधिकारी हरिनारायण जाटव को भी गिरफ़्तार (arrest) किया है। यह गिरफ्तारी आज सुबह कोतवाली पुलिस द्वारा की गई।

यह भी पढ़ें… MP Weather Alert: मप्र में जारी रहेगा झमाझम का दौर, 1 दर्जन जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

गुना एसपी राजीव कुमार मिश्रा के मुताबिक जनशिक्षक चंद्रमोलेश्वर द्वारा बीईओ कार्यालय में जहर खाने के बाद मामले की जांच की जा रही है। शिक्षा विभाग सहित प्रशासनिक अधिकारियों से सामंजस्य बनाते हुए जांच की गई और प्रथम दृष्टया विभाग के ही चार लोगों को दोषी पाया जा रहा है। इसके आधार पर पुलिस ने बीआरसी शम्भू सिंह सोलंकी, बीईओ हरिनारायण जाटव, सीएसी ओमकार एवं लिपिक रामस्वरूप शर्मा के खिलाफ आत्महत्या के लिए प्रेरित करने का मामला दर्ज किया है।

यह भी पढ़ें… 12वीं परीक्षा परिणाम को लेकर Supreme Court का राज्य सरकारों को महत्वपूर्ण आदेश

मामला 10 जून का है, जब शिक्षक चंद्रमोलेश्वर ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों पर ही प्रताड़ना का आरोप लगाया और बीईओ कार्यालय में सल्फास खा लिया था। कलेक्टर गुना के निर्देश पर मामले की जांच शुरु हुई और 12 जून को कोतवाली पुलिस को मर्ग डायरी प्राप्त हो गई। लगभग 10 दिनों बाद पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए गुना बीईओ हरिनारायण जाटव को उनके विंध्याचल कॉलोनी स्थित आवास से गिरफ्तार कर लिया है।