गुना : 30 हजार की रिश्वत लेते पकड़े गए डाकघर अधीक्षक, अटैचमेंट करने मांगे थे 60 हजार, लोकायुक्त की कार्रवाई

गुना, संदीप दीक्षित। गुना के प्रधान डाकघर अधीक्षक बीएस मालवीय को ग्वालियर लोकायुक्त टीम ने 30 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। अधीक्षक ने अशोकनगर जिले के मुंगावली डाकघर में पदस्थ डाक सहायक से अशोकनगर अटैचमेंट कराने के लिए 60 हजार रुपए की रिश्वत मांगी थी।

यह भी पढ़ें… भोपाल : कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव के लिए वोटिंग शुरू, कमलनाथ ने किया मतदान

डाक सहायक इंद्रभान सिंह यादव ने इस मामले की शिकायत 8 अक्टूबर को ग्वालियर लोकायुक्त से की। यहां से उन्हें एक टैप दिया गया और प्रधान डाकघर अधीक्षक की बातचीत रिकॉर्ड करने के लिए कहा गया। डाक सहायक ने गुना प्रधान कार्यालय आकर डाक अधीक्षक बीएस मालवीय से मुलाकात की और पूरी बातचीत रिकॉर्ड कर ग्वालियर लोकायुक्त को भेज दी। मामले की पुष्टि होने पर लोकायुक्त की टीम सक्रिय हो गई और डाक अधीक्षक बीएस मालवीय की निगरानी शुरु कर दी गई। सोमवार को डाक सहायक चंद्रभान यादव गुना के कर्नलगंज स्थित डाक परिसर में अधीक्षक बीएस मालवीय को रिश्वत की पहली किश्त 30 हजार रुपए देने पहुंचे थे। तभी पहले से सक्रिय लोकायुक्त टीम ने करीब 8.15 बजे यहां छापामार दिया और मालवीय को रंगे हाथों पकड़ लिया। 11 सदस्यीय लोकायुक्त टीम ने करीब 3 घंटों तक यहां कार्रवाई की। अंत में बीएस मालवीय को जमानत पर छोड़ दिया गया है। जानकारी सामने आई है कि मालवीय करीब 5 महीने पहले गुना पदस्थ हुए थे।