Illegal Mining: मंत्री की फटकार, ADG के निर्देश बेअसर, खनिज माफियाओं को आखिर किसका संरक्षण?

गुना।विजय कुमार जोगी।

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट अवैध रूप से गौण खनिज का खनन परिवहन मैं लगे वाहनों के चालकों मालिकों पर चोरी की एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए।  जिसके बाद सीजेएम कौशलेंद्र सिंह भदोरिया ने पुलिस अधीक्षक को कार्यवाही के लिए पत्र लिखा।  ग्वालियर एडीजी राजा बाबूसिंह ने जॉन के पुलिस अधीक्षकों को खत लिखकर सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिए। गुना एसपी तरुण नायक ने कलेक्टर एस विश्वनाथन को पत्र लिखकर टीम गठित करने कहा जिसके बाद जिलाधीश द्वारा जिले में कार्रवाई के लिए चार टीमें टास्कफोर्स गठित की। टीम द्वारा कार्यवाही न करने से सीजेएम कौशलेंद्र सिंह भदोरिया खुद सड़क पर उतरे और उन्होंने अवैध रूप से परिवहन में लगे वाहनों को पकड़ा। जिसके बाद जिले की टीम सक्रिय हुई लेकिन एक दिन की कार्यवाही के बाद लापता हो गई।

मंत्री सिसोदिया की फटकार भी बेअसर

शासन के कैबिनेट मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया ने विगत दिवस विकास समिति की समीक्षा बैठक के दौरान खनिज विभाग को जमकर लताड़ लगाई उन्होंने रेत चोरी परिवहन रोकने सहित फर्जी रॉयल्टी कट्टों से रही वसूली को तत्काल रोकने,कार्यवाही करने के सख्त निर्देश दिए जाने के बाद भी विभाग उदासीन बना है। गठित टास्कफोर्स भी नजर नहीं आ रही।

सिंध नदी के लहरघाट से खुलेआम रेत चोरी

जिले के म्याना थाना क्षेत्र में सिंध नदी के लहराघाट से रेत माफिया रोजाना सैकड़ों ट्राली रेत निकाल कर मुंहमांगे महंगे दामों में बेच रहे हैं जिन पर पुलिस प्रशासन विभाग के अफसर लगाम नहीं लगा पाए,तमाम दिशा निर्देशों व आदेशों के बाद भी इस तरह खुलेआम रेत चोरी परिवहन किया जा रहा है आखिर इन माफियाओं को इसका संरक्षण मिला हुआ है।