अंतर्राज्यीय सेक्सटॉर्सन गिरोह का पर्दाफ़ाश, अधिकारियों को बनाया शिकार

गुना, डेस्क रिपोर्ट। वर्तमान में ठगों द्वारा अपराध के नये नये तरीकों से लोगों के साथ ठगी की बारदातों को अंजाम दिया जा रहा हैं। इस प्रकार के ठगों के झांसे में नहीं आने के लिये गुना पुलिस अधीक्षक राजीव कुमार मिश्रा द्वारा जिले में विभिन्न माध्यमों से नागरिकों को सायबर अपराधों के संबंध में जागरूक करने का प्रयास किया जा है। अभी हाल ही में उनके द्वारा फेसबुक लाईव द्वारा भी ऑनलाईन फ्रॉड एवं सेक्सटॉर्सन फ्रॉड के संबंध में विस्तार से जानकारी देकर इस प्रकार के ठगों के झांसे में नहीं आने की अपील की गई है।

Morena News : नकली पनीर बनाने की फैक्ट्री पर प्रशासन का छापा, 7 क्विंटल 50 किलो पनीर सहित कई केमिकल जब्त

इसके बावजूद भी कुछ लोग जागरूकता की कमी में इन अपराधियों के बहकावे में आकर ठगी के शिकार हो जाते हैं।ऐसा ही एक मामला हाल ही में केंट थाना अंतर्गत हुआ था, जिसमें एक आयकर अधिकारी के फेसबुक अकाउन्ट पर किसी अज्ञात महिला के नाम से फ्रेण्ड रिक्वेस्ट आई थी, जिसे स्वीकार करने के उपरांत व्हाट्सएप नंबर का आदान प्रदान किया गया था। इसके बाद व्हाट्सएप पर वीडियो कॉल कर अश्लील एवं कामुकता भरी बातें की गई अश्लील दृश्य  दिखाये गये और फ्रॉडर द्वारा इस वीडियों कॉल की रिकॉर्डिंग एडिट कर उसे वायरल करने की धमकी देकर मोबाईल नंबर 7099782271 से उस अधिकारी को कॉल कर जबरिया पैंसों की मांग की गई। फ्रॉडर द्वारा बार-बार कॉल कर अधिकारी से पैसे मांगे जा रहे थे।

CBSE: खतरें में बच्चों का भविष्य, 10वीं-12वीं के लाखों छात्र परेशान, ये है कारण

अधिकारी द्वारा इस पूरे घटनाक्रम की शिकायत गुना पुलिस अधीक्षक से की गई। पुलिस अधीक्षक राजीव कुमार मिश्रा द्वारा अधिकारी के साथ हुये सेक्सटॉर्सन फ्रॉड की उक्त बारदात को गंभीरता से लिया और सेक्सटॉर्सन गिरोह पर सख्त कार्यवाही के लिये निर्देश दिये गये। पीड़ित अधिकारी की शिकायत पर से थाना केंट में आज्ञात आरोपी के विरूद्ध अप.क्र. 866/21 धारा 384 भादवि एवं आईटी एक्ट की धारा 67, 67(ए) के तीत प्रकरण दर्ज कर विवेचना में लिया गया। सेक्सटॉर्सन की बारदात में शामिल पूरी गेंग का शीघ्र पर्दाफास करने के लिये पुलिस अधीक्षक राजीव कुमार मिश्रा द्वारा नगर पुलिस अधीक्षक आकाश अमलकर के मार्गदर्शन एवं टीआई केंट अवनीत शर्मा के नेतृत्व में पुलिस की एक विशेष तकनीकी टीम गठित की गई और जिसे अवश्यक दिशा निर्देश देकर धोखाधड़ी के आरोपियों की पतारसी एवं गिरफ्तारी के लिये लगाया गया।

गठित टीम द्वारा प्रकरण के अज्ञात आरोपियों की पतारसी के लिये भरसक प्रयास किये गये और इसमें पुलिस के विभिन्न तकनीकी संसाधनों का उपयोग कर अंततः आयकर अधिकारी के साथ सेक्सटॉसन की बारदात को अंजाम देने वाले गिरोह की तह तक पहुंच गई, जिसमें आरोपी अलवर राजस्थान के आसपास के ज्ञात होने पर जिले से तत्काल पुलिस टीम अलवर के लिये रवाना हुई और जहां पर आरोपियों की सघनता से तलाश की गई और बारदात को अंजाम देने वाले दो लोगों को अपनी हिरासत में ले लिया गया, जिनके द्वारा अपने नाम साजिद उर्फ सज्जी पुत्र सहरीन खांन उम्र 21 साल एवं शाहिल पुत्र हारूण खां उम्र 19 साल निवासीगण ग्राम सेमरा खुर्द, थाना गोविन्दगढ़, जिला अलवर, राजस्थान के होना बताये।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सोमवार को जायेगें लखीमपुर खीरी, अब तक आठ की मौत

जिन्होंने पूछताछ पर सेक्सटॉर्सन के माध्यम से लोगों के साथ धोखाधड़ी की बारदातें करना बताया एवं गुना के अधिकारी के साथ भी इस प्रकार की बारदात करना स्वीकार किया। इसके बाद पुलिस दोंनों आरोपियों को लेकर गुना आई। इन आरोपियों द्वारा गांव वालों के नाम से कई बैंक अकाउन्ट खोल रखे है, जिनमें वह धोखाधड़ी का पैसा ट्रांसफर कराते हैं।उक्त मामले में दोंनों आरोपियों को पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया है, जिन्हें न्यायालय पेश कर पुलिस रिमाण्ड पर लिया जावेगा और जिनसे हर बिन्दु पर बारीके से पूछताछ कर इनकी पूरी गेंग का खुलासा किया जावेगा।

अरुण यादव नहीं लड़ेंगे खंडवा से लोकसभा उपचुनाव, पार्टी को लिखा पत्र

गुना पुलिस की इस महत्वपूर्ण कार्यवाही में केंट थाना प्रभारी निरीक्षक अवनीत शर्मा, सायबर सेल प्रभारी निरीक्षक विनोद सिंह राठौर, उप निरीक्षक मसीह खांन, उप निरीक्षक दीपक सिंह भदौरिया, उप निरीक्षक जयवीर सिंह बघेल, आरक्षक धीरेन्द्र राजावत, आरक्षक भूपेन्द्र खटीक, आरक्षक विनीत भारद्वाज, आरक्षक हेमन्त बाथम एवं आरक्षक पुष्पेन्द्र जाट की महत्तवपूर्ण भूमिका रही है। गुना पुलिस अधीक्षक द्वारा इस टीम को पुरस्कृत किया जा रहा है।