MP Politics: राघौगढ़ में ज्योतिरादित्य सिंधिया, महाराज ने भेदा राजा का किला

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव दिग्विजय सिंह को बड़ा झटका दिया है। राघोगढ़ में सार्वजनिक कार्यक्रम के दौरान शनिवार को कांग्रेस के पूर्व विधायक स्व मूल सिंह के बेटे हीरेंद्र सिंह ने भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ली।

गुना, संदीप दीक्षित। केंद्रीय नागरिक एवं उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया शनिवार को दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) के इलाके के राघोगढ़ पहुंचे। वहां पर दिग्विजय सिंह के कट्टर समर्थक माने जाने वाले पूर्व विधायक स्व.मूल सिंह के पुत्र हीरेंद्र सिंह (Hirendra Singh joins BJP) ने सिंधिया के सामने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण की।

यह भी पढ़े.. मध्यप्रदेश पंचायत चुनाव का बिगुल, शाम से लग सकती है आचार संहिता

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस (MP Congress) के राष्ट्रीय महासचिव दिग्विजय सिंह को बड़ा झटका दिया है। राघोगढ़ में सार्वजनिक कार्यक्रम के दौरान शनिवार को कांग्रेस के पूर्व विधायक स्व मूल सिंह के बेटे हीरेंद्र सिंह ने भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ली। इस अवसर पर पर सिंधिया ने दिग्विजय पर हमला बोलते हुए कहा कि स्व.मूल सिंह दादा का उपयोग केवल सीट खाली होने के समय किया जाता था। जब बेटे को विधायक बनाने की बारी आई तब मूल सिंह से हाथ जोड़ लिए गए।

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (Union Minister Jyotiraditya Scindia) गुना जिले के दौरे पर पहुंच गए हैं। सबसे पहले सिंधिया दिग्विजय सिंह के गढ़ राघौगढ़ में सभा लेने पहुंचे। राघौगढ़ में सिंधिया जोशीले अंदाज में नजर आए। यहां के आईटीआई मैदान में हुई सभा को संबोधित करते हुए सिंधिया ने कहाकि आज से राघौगढ़ में नए अध्याय की शुरुआत हो गई है। इस दौरान किले के करीबी हीरेन्द्र सिंह बंटी बना ने भाजपा (MP BJP) की सदस्यता ले ली है। उनके साथ मधुसूदनगढ़ ब्लॉक कांग्रेस ब्लॉक अध्यक्ष सतपाल सिंह सहित कई पंचायतों के सरपंच भी भाजपा की शामिल हुए।

यह भी पढ़े.. MP Panchayat Election: सुप्रीम कोर्ट पहुंची मध्य प्रदेश सरकार, 6 को सुनवाई

कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय मंत्री के साथ मंच पर पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसौदिया, स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी सहित चांचौड़ा क्षेत्र की पूर्व विधायक ममता मीना भी नजर आईं। सिंधिया ने कोरोनाकाल में कांग्रेस द्वारा वैक्सीन को भाजपा का टीका बताने के मुद्दे को दोबारा उछाला। सिंधिया ने तंज कसा, जो लोग कोरोनाकाल में वैक्सीन का मजाक उड़ा रहे थे, वह आज अस्पतालों की ओर दौड़ लगा रहे हैं। जयवर्धन सिंह के साथ राघौगढ़ विधानसभा में एक कार्यक्रम की यादा ताजा करते हुए सिंधिया ने कहा कि हीरेन्द्र सिंह के पिता स्व. मूलसिंह की स्मृति में आयोजित कार्यक्रम में वह दौड़े थे। अब दौडऩे और दौड़ाने की बारी हीरेन्द्र सिंह की है।