सिंधिया के गढ़ में सेंध लगाने पूर्व मंत्री अग्रवाल को टिकट दे सकती है कांग्रेस

गुना| विजय कुमार जोगी | कुछ महीनों बाद होने वाले उपचुनाव को लेकर अभी से राजनीतिक पार्टियां अपने-अपने ढंग से मतदाताओं को रिझाने में और लोगों से जनसंपर्क बनाने में जुट गई है| इन उपचुनावों में ज्योतिरादित्य सिंधिया की साख दांव पर है तो वहीं कांग्रेस भी अपनी ओर से पूर्ण रूप से बमोरी विधानसभा जीतने की तैयारी में जुट चुकी है|

बता दें कि बीजेपी की तरफ से पूर्व श्रम मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया का बमोरी विधानसभा से चुनाव लड़ना लगभग तय माना जा रहा है| ऐसे में कांग्रेस की तरफ से जमीनी स्तर पर सर्वे कराया गया था और सर्वे के आधार पर शिवराज सिंह शासनकाल में मध्य प्रदेश विमानन राज्यमंत्री रहे कन्हैया लाल अग्रवाल का नाम पहले स्थान पर माना जा रहा है| दिग्विजय सिंह की पहली पसंद भी कन्हैयालाल अग्रवाल को माना जा रहा है| आने वाले समय में कन्हैयालाल अग्रवाल कांग्रेस की तरफ से अपनी दावेदारी पेश करेंगे और अभी से कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ अग्रवाल जनता के संपर्क में लगातार बने हुए हैं और वही उनके परिवार के लोग भी बमोरी विधानसभा में लोगों से जन संपर्क कर रहे हैं|

कांग्रेस के सैकड़ों कार्यकर्ता अग्रवाल को कांग्रेस का प्रबल दावेदार बता रहे हैं| क्योंकि के एल अग्रवाल को राजनीतिक तौर पर एक लंबा अनुभव प्राप्त है और कई विकास कार्य शिवराज सिंह शासनकाल में केएल अग्रवाल ने किए भी है | भाजपा छोड़ने के बाद लंबे समय से कन्हैया लाल अग्रवाल कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के संपर्क में है और राजनीतिक गलियारों में कन्हैयालाल अग्रवाल को कांग्रेस से टिकट मिलना लगभग तय माना जा रहा है| इसको लेकर चर्चाओं का बाजार भी गर्म बना हुआ है| अब देखने वाली बात यह होगी कि क्या कन्हैया लाल अग्रवाल महाराज के गढ़ बमोरी विधानसभा में अपने हाथों में कांग्रेस का झंडा लेकर विजय हासिल कर पाते हैं या सिंधिया के चेहरे पर बमोरी विधानसभा के लोग एक बार फिर भरोसा दिखाएंगे|