ग्वालियर सांसद ने लिखा सीएम शिवराज को पत्र, की ये बड़ी मांग 

आशा है आप हमारे इन राष्ट्र पुरुषों की स्मृतियों को चिरस्थायी रखने के लिए यथाशीघ्र उचित कार्यवाही करेंगे।  

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। ग्वालियर (Gwalior) में निर्माणाधीन 1000 बिस्तर का अस्पताल (1000 Bed Hospital) प्रगति पर है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) से लेकर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar), केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia), ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर (Pradyuman Singh Tomar), सांसद विवेक नारायण शेजवलकर (Vivek Narayan Shejwalkar) सहित अन्य जनप्रतिनिधि इसके निर्माण पर नजर रखे हुए हैं। पिछले दिनों पहली बार ग्वालियर दौरे पर आये प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट (Tulsiram Silawat) ने भी इसके शीघ्र निर्माण के निर्देश दिए थे। अब इस अस्पताल को लेकर सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर एक मांग की है। सांसद ने अपने पत्र में इसके अलावा सुपर स्पेशलिटी अस्पताल के लिए भी एक मांग की है।

ग्वालियर के सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पात्र लिखकर 1000 बिस्तर के निर्माणाधीन को लेकर एक पत्र लिखा है। पत्र में सांसद ने लिखा कि ग्वालियर में निर्माणाधीन 1000 बिस्तर के अस्पताल का निर्माण पूर्णता की ओर है।  ग्वालियर के लिए आपके पूर्व के कार्यकाल की यह एक उल्लेखनीय सौगात है इस हेतु आपका हार्दिक आभार।

ये भी पढ़ें – MP में करोड़ों का महाराशन घोटाला, दिग्विजय सिंह बोले-SIT गठित कर जांच कराई जाए

कोरोना की संभावित तीसरी लहर से सफलतापूर्वक मुकाबला करने की तयारी की दृष्टि से शीघ्र ही यहाँ 500 बिस्तर तैयार किये जाने की योजना है।  15 जुलाई को प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट ने इस हेतु प्रशासन को आवश्यक निर्देश भी दिए हैं।

ग्वालियर सांसद ने लिखा सीएम शिवराज को पत्र, की ये बड़ी मांग 

श्यामा प्रसाद मुखर्जी के नाम पर हो 1000 बिस्तर के अस्पताल का नाम  

मध्यप्रदेश में भारतीय जनसंघ की स्थापना ग्वालियर से ही हुई है हमारे प्रेरणास्रोत स्वर्गीय श्यामा प्रसाद मुखर्जी का प्रवास भी उस समय ग्वालियर हुआ था।  ग्वालियर के निर्माणाधीन एक 1000 बिस्तर वाले अस्पताल का नामकरण यदि श्यामा प्रसाद मुखर्जी के नाम पर किया जाता है तो हम सब के लिए गर्व की बात भी होगी और उस महान राष्ट्र नेता क लिए के लिए हम ग्वालियरवासियों की आदरांजलि भी होगी।

ये भी पढ़ें – प्रशासन ने दिया भरोसा, सब्जी मंडी के लाइसेंसी कारोबारियों का नहीं जाएगा रोजगार

अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर हो सुपर स्पेशलिटी अस्पताल का नाम 

सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने पत्र में आगे लिखा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने पिछले दिनों ग्वालियर को सुपर स्पेशलिटी अस्पताल की सौगात दी है। कोरोना की पहली और दूसरी लहर में इस नव निर्मित सुपर स्पेशलिटी अस्पताल ने कोविड अस्पताल के रूप में ग्वालियर चम्बल अंचल के पीड़ितों के उपचार में प्रमुख भूमिका निभाई है। इस सुपर स्पेशलिटी अस्पताल का नामकरण ग्वालियर के सपूत भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर हो यह हम सब ग्वालियरवासियों के लिए गौरव की बात होगी।

 ये भी पढ़ें – Gwalior News: कार लूट कर फरार हुए दो आरोपी 36 घंटे में गिरफ्तार, कार बरामद

अतः आपसे अनुरोध है कि इस हेतु प्रशासनिक स्तर पर आवश्यक निर्देश देने की कृपा करें।  आशा है आप हमारे इन राष्ट्र पुरुषों की स्मृतियों को चिरस्थायी रखने के लिए यथाशीघ्र उचित कार्यवाही करेंगे।