Gwalior News : पटवारियों ने तहसील में जमा किये “बस्ते”, कलेक्ट्रेट पर किया प्रदर्शन

ग्वालियर, अतुल सक्सेना।  मध्यप्रदेश पटवारी संघ के आह्वान पर मध्यप्रदेश के 19 हजार पटवारी अपनी तीन मांगों को लेकर हड़ताल पर हैं।  आज मंगलवार 10 अगस्त को सभी पटवारियों ने अपनी अपनी तहसील में जाकर अपने “पटवारी बस्ते” जमा कर दिए। ग्वालियर में भी हड़ताल का असर देखा गया।   जिले के पटवारियों ने अपने बस्ते जमा कर दिए और कलेक्ट्रेट पर इकट्ठे होकर प्रदर्शन किया।

ये भी पढ़ें – सी एम हाउस का घेराव करेगी युवा कांग्रेस, राष्ट्रीय स्तर के नेता होंगे शामिल

मध्यप्रदेश पटवारी संघ के ग्वालियर जिला अध्यक्ष ज्ञान सिंह राजपूत ने  कहा कि प्रदेश के पटवारी पिछले कई दिनों से तीन सूत्रीय मांगों को लेकर चरणबद्ध तरीके से आंदोलनरत हैं। लेकिन सरकार ने अब तक हमारी मांगों पर विचार नहीं किया है।  इसलिए मजबूरी में हड़ताल पर जाने के लिए बाध्य हैं।  उन्होंने बताया कि प्रदेश में करीब 19 हजार पटवारी हैं जो आंदोलन का हिस्सा हैं।  सभी ने आज अपनी अपनी तहसीलों में जाकर कानूनगो को अपने पटवारी बस्ते  जमा कर दिए।

ये भी पढ़ें – मप्र विधानसभा : मानसून सत्र स्थगित होने के बाद कांग्रेस का हमला, कही ये बड़ी बात

उन्होंने कहा कि ग्वालियर जिले की तहसीलों में पदस्थ 293 पटवारियों ने भी आज पटवारी बस्ते जमा कर दिए हैं। जिला अध्यक्ष ने कहा कि पिछले दिनों बाढ़ से आई  आपदा को ध्यान में रखते हुए हम आगामी 5 दिन तक बाढ़ आपदा का काम करेंगे लेकिन यदि हमारी मांगें नहीं मानी गयी तो छठवे दिन से हम राहत आपदा वाला काम भी नहीं करेंगे। ग्वालियर जिले के पटवारियों ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर प्रदर्शन भी किया।

Gwalior News : पटवारियों ने तहसील में जमा किये "बस्ते", कलेक्ट्रेट पर किया प्रदर्शन

ये हैं पटवारियों की मांगें

  • पटवारियों का ग्रेड पे 2800 करते हुए समय मान वेतनमान विसंगति को दूर किया जाए।
  • गृह जिले में पदस्थापना हो। वर्तमान में कई पटवारियों को गृह जिले से सैकड़ों किलोमीटर दूर पदस्थ कर दिया गया है।
  • नवीन पटवारियों की CPCT की अनिवार्यता संबंधी नियम समाप्त किया जाए।