जब ‘महाराज’ ने ‘शिवराज’ के सामने मंत्री प्रद्युम्न को पहनाई चप्पल, ये है पूरा मामला

ग्वालियर, अतुल सक्सेना

फूलबाग मैदान में आयोजित भाजपा के सदस्यता ग्रहण समारोह में शनिवार को मंच पर एक अलग नजारा देखने को मिला। यहाँ मौजूद “महाराज” के हाथ में चप्पल दिखाई दी, चौंकिए नहीं ये चप्पल किसी को पहनाने के लिए ही थी। इसका और कोई उपयोग नहीं होना था।

भाजपा ने सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थकों को भाजपा में शामिल करने के लिए शनिवार से संभाग स्तरीय तीन दिवसीय सदस्यता ग्रहण समारोह आयोजित किया है। इसमें प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान , केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने सहित अन्य वरिष्ठ नेता शामिल हुए। फूलबाग मैदान में आयोजित कार्यक्रम ग्वालियर विधानसभा के लिए था। यहाँ से ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर भाजपा के उम्मीदवार होंगे। खास बात ये है कि वे अपनी कार्यशैली से हमेशा चर्चा में रहते हैं लेकिन इस बार वे अपने संकल्प को लेकर चर्चा में हैं। पिछले कुछ महीने पहले उन्होंने संकल्प लिया था कि जब तक उनके क्षेत्र की पानी, बिजली, सड़क जैसी बुनियादी समस्यायें दूर नहीं हो जायेगी तब तक वे जूते चप्पल नहीं पहनेंगे। बहुत लंबा। अरसा हो जाने के बाद भी ऊर्जा मंत्री नंगे पैर ही रहते हैं । आज कार्यक्रम के दौरान उनके इस संकल्प की प्रशंसा करते हुए सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मुख्यमंत्री की मौजूदगी में प्रद्युम्न सिंह तोमर को चप्पल पहनाई और भरोसा दिलाया कि उनके क्षेत्र की सभी समस्यायें दूर हो जायेगी।

दर असल फूलबाग मैदान में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का संबोधन तय था। संचालक वेदप्रकाश शर्मा उनको आमंत्रित कर ही रहे थे कि सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इशारे से वेदप्रकाश शर्मा को विनम्रता पूर्वक रोका और माइक पर प्रद्युम्न सिंह के संकल्प की बात बताई। इसे साथ ही मुख्यमंत्री से आग्रह किया कि वह अपने मंत्री प्रद्युम्न से आग्रह करें कि वह नंगे पांव रहने के अपने व्रत को तोड़ दें। महाराज और शिवराज के इतना कहते ही वहाँ खड़े ग्वालियर मेला प्राधिकरण के पूर्व उपाध्यक्ष प्रवीण अग्रवाल बढे उन्होंने एक जोड़ी चप्पल आगें बढ़ाई जिसे सिंधिया ने अपने हाथ में लिया और खुद प्रद्युम्न सिंह तोमर को पहनाई। यहाँ ये बात भी गौर करने लायक है कि इसी समय नगर निगम कमिश्नर भी एक जोड़ी जूते लेकर मंच पर पहुंचे थे लेकिन सिंधिया ने ये कहकर जूते लौटा दिये कि प्रद्युम्न जमीनी नेता है महंगे जूते नहीं पहनते उनके लिए चप्पल ही ठीक है। बहरहाल मंच पर हुई इस अप्रत्याशित घटना को देखने वाले सिंधिया की सादगी के कायल हो गए।

जब 'महाराज' ने 'शिवराज' के सामने मंत्री प्रद्युम्न को पहनाई चप्पल, ये है पूरा मामला