दिनदहाड़े हत्या कर फरार आरोपी गार्ड गिरफ्तार, SP ने की टीम को इनाम देने की घोषणा

ग्वालियर । शहर के जनकगंज थाना क्षेत्र के दानाओली में बीती 11 नवम्बर को दिनदहाड़े हत्या कर फरार हुए आरोपी सुरक्षा गार्ड को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक आरोपी शहर से बाहर भागने की कोशिश में था। उधर एसपी ने आरोपी को गिरफ्तार करने वाली टीम को पुरस्कृत करने की घोषणा की है। 

दरअसल शहर में लागू धारा 144  के दौरान दाना ओली में दिनदहाड़े सुरक्षा गार्ड राकेश शर्मा उर्फ़ अक्कू ने रिंकू उर्फ़ कबीर तोमर की अपनी 12 बोर की लायसेंसी बंदूक से हत्या कर दी थी और फरार हो गया था । घटना के बाद से ही पुलिस उसकी तलाश कर रही थी। क्राइम ब्रांच थाना टी आई दामोदर गुप्ता और जनकगंज थाना टी आई ज्ञानेंद्र सिंह ने आज पत्रकारों को बताया कि मुखबिर ने सूचना दी कि आरोपी अक्कू बेला की बावड़ी पर शहर से बाहर भागने की कोशिश में है । सूचना के बाद पुलिस की संयुक्त टीम ने आरोपी को घेरकर गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने जब उससे पूछ ताछ की तो उसने घटना करना स्वीकार कर लिया । पुलिस ने उसके पास से हत्या में प्रयुक्त 12 बोर की लायसेंसी बंदूक भी जब्त कर ली। गौरतलब है कि सुरक्षा गार्ड राकेश शर्मा उर्फ अक्कू ने रवि उर्फ कबीर तोमर की गोली मारकर हत्या कर सनसनी फैला दी थी। इस हत्याकांड के दौरान तीन अन्य लोग भी गोली के छर्रे लगने से घायल हुए थे। खास बात ये है कि मृतक रवि उर्फ कबीर तोमर  हिस्ट्री शीटर था उसपर 16 से अधिक लूट और चोरी के मामले शहर और शहर के बाहर के थानों में दर्ज है और एक लूट के मामले में कुछ दिन पहले ही जेल से छूट कर बाहर आया था। प्रारंभिक जाँच में हत्या की वजह नशा बताई जा रही है। बताया जा रहा है कि मृतक रवि का अक्कू के भतीजे से स्मैक का नशा करने के दौरान विवाद हुआ था। विवाद इतना बढ़ गया कि अक्कू ने रवि उर्फ कबीर तोमर पर नजदीक से गोली चला दी  जिससे उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई थी। पुलिस अक्कू से कड़ी पूछ ताछ कर रही है। उधर पुलिस की इस सफलता के बाद पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने आरोपी को पकड़ने वाली टीम को 5 हजार रुपये का नकद इनाम देने की घोषणा की है।