स्कूल-कॉलेज, कोचिंग के पास दिखे असामाजिक तत्व.. तो खैर नहीं

ग्वालियर । हैदराबाद, महू और फिर उन्नाव में हुई घटनाओं और बच्चियों की सुरक्षा को लेकर उठ रहे सवालों के बीच ग्वालियर जिला प्रशासन सतर्क हो गया है। प्रशासन ने स्कूल,कॉलेज और कोचिंग संस्थानों के आसपास मंडराने वाले असामाजिक तत्वों के खिलाफ आज से अभियान छेड़ दिया है और चेतावनी दी है कि इसके आसपास दिखाई। दिए तो खैर नहीं,सीधी कार्रवाई होगी। 

वैसे तो ग्वालियर के संवेदनशील कलेक्टर अनुराग चौधरी और पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन समय समय पर स्कूल,कॉलेज और कोचिंग संस्थानों के आसपास मंडराने वाले आवारा लोगों के खिलाफ कार्रवाई करते रहते हैं लेकिन पिछले दिनों हैदराबाद,महू और फिर उन्नाव में हुई वारदातों के बाद शहर की बेटियों और महिलाओं की चिंता को लेकर प्रशासन ने आज से अभियान शुरू किया है। महिलाओं और स्कूल,कॉलेजों, कोचिंगों में पढ़ने वाली छात्राओं की सुरक्षा को देखते हुए जिला प्रशासन और पुलिस ने शहर के स्कूल कॉलेजों के बाहर गुटका पानमसाला, बीड़ी सिगरेट बेचने वालों के खिलाफ मुहिम चलाकर कार्रवाई की। प्रशासन का मानना है कि असामाजिक तत्व इन्हीं गुमटियों पर खड़े रहकर छेड़ छाड़ जैसी घटनाओं को अंजाम देते हैं।  पुलिस प्रशासन की कर्यवाई के बाद गुमटी वालों और असामाजिक तत्वों में हड़कंप मच गया। कलेक्टर अनुराग चौधरी, एसपी नवनीत भसीन और नगर निगम आयुक्त संदीप माकिन की मौजूदगी में पुलिस प्रशासन ने कॉलेज,स्कूल, कोचिंगों के आसपास घूम रहे आवारा तत्वों की धरपकड़ भी की। कलेक्टर अनुराग चौधरी को कई जगह अतिक्रमण और अवैध पार्किंग भी मिली इसे तत्काल हटाने के निर्देश उन्होंने निगम आयुक्त को दिये।