होटल “नारायणम” पर चला प्रशासन का हथौड़ा, बिना अनुमति किये निर्माणों को तोड़ा

ग्वालियर। भाजपा शासन में सरकारी जमीनों को घेरकर या नियम विरुद्द किये गए अवैध निर्माणों पर सरकार की हरी झंडी के बाद जिला प्रशासन का हथौड़ा चलने लगा है। इसी क्रम में आज जिला प्रशासन ने मुरार में बने होटल नारायणम पर कार्रवाई की और अवैध रूप से बनाई गई चौथी और पांचवी मंजिल को तोड़ दिया। 

शहर में भू माफियाओं और अतिक्रमणकारियों के खिलाफ चलाई जा रही मुहिम के चलते सोमवार को प्रशासन का अमला कालपी ब्रिज के पास बने होटल नारायणम पर पहुंचा। एसडीएम मुरार प्रदीप तोमर के मुताबिक होटल नारायणम के संचालक ने होटल निर्माण के लिए नगर निगम से 5 मंजिल  की परमिशन मांगी थी। लेकिन निगम ने होटल बनाने के लिए तीन मंजिल की परमिशन दिनथी।लेकिन नियम को ताक पर रखकर होटल संचालक ने होटल का निर्माण 4 मंजिल तक कर लिया और पांचवी मंजिल पर भी निर्माण कर रखा था।इसको लेकर प्रशासन ने कई बार नोटिस भी भेजा। लेकिन अपने राजनैतिक रसूख के दम पर होटल संचालक ने जवाब देना उचित नहीं समझा। सोमवार को जिला प्रशासन निगम के अमले के साथ होटल पहुंचा और बिना स्वीकृत के बनी होटल की चौथी मंजिल और पांचवी मंजिल के हिस्से को तोड़ दिया।