10 हजार रुपए की रिश्वत लेते जनपद पंचायत का AE रंगेहाथों गिरफ्तार

ग्वालियर। लोकायुक्त पुलिस ने जनपद पंचायत मुरार कार्यालय में पदस्थ AE को 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा है। मामला सीसी रोड के निर्माण से जुड़ा है जिसकी स्वीकृति के लिए AE रिश्वत की मांग कर रहा था| 

जानकारी के अनुसार जनपद  पंचायत मुरार के अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत गुर्री की सरपंच लक्ष्मी देवी पति मोहर सिंह द्वारा 4 नवंबर को लोकायुक्त ग्वालियर में शिकायत की थी कि जनपद पंचायत मुरार में पदस्थ AE अनिल कुमार शुक्ला गांव में 23 लाख रुपए कीमत की 800 मीटर सीसी रोड निर्माण की स्वीकृति के लिए 50 हजार रुपए की रिश्वत की मांग कर रहे हैं। मोहर सिंह के मुताबिक AE शुक्ला पिछले कई महीनों से सड़क का इस्टीमेट नहीं बना रहे थे। शिकायत मिलने के बाद लोकायुक्त की मदद से 5 नवंबर को दस हजार रुपए में सौदा तय हुआ। उसके बाद आज 6 नवंबर को शिकायतकर्ता मोहर सिंह जनपद पंचायत मुरार कार्यालय में AE अनिल कुमार शुक्ला को 10 हजार रुपए की रिश्वत देने पहुचा|

 मोहर सिंह ने जैसे ही रिश्वत अनिल शुक्ला को दी वहां पहले से तैयार लोकायुक्त पुलिस ने रिश्वतखोर AE को रंगेहाथ पकड़ लिया| शिकायत के आधार पर ट्रैप होने के बाद लोकायुक्त द्वारा भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धाराओं में मामला पंजीबद्ध कर जांच शुरू की है।