मंत्री की ‘सफाईगिरी’ के बाद बड़ी कार्रवाई, पांच अधिकारी सस्पेंड

ग्वालियर। प्रदेश के खाद्य नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के स्वच्छता अभियान का असर अब दिखाई देने लगा है। रविवार को मंत्री के नाले में उतरकर गंदगी साफ करने के मामले में किरकिरी के बाद निगम आयुक्त ने आज सफाई अभियान में लापरवाही बरतने वाले पांच अधिकारियों को निलंबित कर दिया।  

दरअसल, रविवार को मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर निगम अधिकारियों और कार्यकर्ताओं के साथ वार्ड 16 के न्यू काॅलोनी नम्बर 1 में पहुंचे जहां बह रहा नाला चौक होने पर मंत्री फावडा मंगाकर स्वयं ही 4 फीट गहरे नाले में उतर गये, इस दौरान वे कमर तक गहर नाली में उतरकर सफाई करते हुए दिखाई दिए थे। नाला साफ करते हुए मंत्री बोले कोई भी काम छोटा बडा नहीं होता हैं हम सभी की नैतिक जिम्मेदारी है कि हम अपने आस पास के क्षेत्र और नालों को निगम के साथ खुद भी साफ करें। मंत्री श्री तोमर सुबह न्यू काॅलोनी नम्बर 1 रेशम मिल स्थित तिकोनिया पार्क पहुंचे, जहां घरों के पीछे बने चेम्बर चोक होने से घरों में पानी और सीवर बह रही थी इस पर मंत्री नाराज हुए और सीवर सेल प्रभारी को बुलाकर नाराजगी व्यक्त कर कहा कि दो दिन में नाला साफ हो जाए और क्षेत्रीय नागरिकों से अपील की कि आप नालियों में गोबर, पाॅलीथिन व कचरा ना डालें।  मंत्री श्री तोमर को क्षेत्रवासियों द्वारा बताया गया कि तिकोनिया पार्क के पास बना सार्वजनिक शौचालय अनुपयोगी है लेकिन इसके कारण क्षेत्र में गंदगी ज्यादा रहती है, इसलिए इसे वाचलनायल का स्वरूप दे दिया जाए, जिसको लेकर मंत्री श्री तोमर ने क्षेत्रवासियों के आग्रह पर उक्त शौचालय की जगह वाचनालय बनाने के निर्देश निगम अधिकारियों को दिए। 

मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर द्वारा रेशम मिल क्षेत्र में सफाई अभियान चलाया गया। इस दौरान क्षेत्र में सफाई व्यवस्था को लेकर उनके द्वारा निगमायुक्त से नाराजगी व्यक्त की। जिसके चलते निगमायुक्त संदीप माकिन ने क्षेत्र क्रमांक 5 के अंतर्गत वार्ड क्रमांक 16 के तहत रेशम मिल में निरीक्षण के दौरान नाले में गंदगी एवं अन्य क्षेत्रों में गंदगी मिलने पर संबंधित क्षेत्राधिकारी राजेश परिहार, सहायक स्वास्थ्य अधिकारी गौरव सेन एवं वार्ड 16 के डब्ल्यूएचओ आकाश करोसिया को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। इसके अलावा अन्य क्षेत्र में सफाई व्यवस्था में  लापरवाही बरतने पर डब्ल्यूएचओ विद्याराम चौहान और ताराचंद को निलंबित कर दिया एवं क्षेत्रअधिकारी राजू गोयल को कारण बताओ नोटिस दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here