सरकार पर गरजीं आंगनबाड़ी कार्यकर्ता-सहायिका, धरना देकर लगाए ये आरोप

anganwadi-worker-annoyed-over-government-

ग्वालियर। आंगनबाड़ी में काम करने वाली  कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं ने प्रदेश की कमलनाथ सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। ग्वालियर में फूलबाग चौराहे पर धरना देते हुए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं ने कहा कि कांग्रेस ने अपने वचनपत्र में सरकार बनने पर हमें नियमित करने का वादा किया था लेकिन वादा तो पूरा किया नहीं उल्टा हमारा मानदेय घटा दिया। जो हमारे साथ धोखा है।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं ने आज प्रदेश सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन किया। सभी संभाग और जिला मुख्यालयों पर आंगनबाड़ी में काम करने वाली महिलाएं इकठ्ठा हुई और कमलनाथ सरकार और कांग्रेस पर वादा खिलाफी के आरोप लगाये। ग्वालियर की जिला अध्यक्ष कमलेश शर्मा ने आरोप लगाए कि हमने लम्बे समय तक आन्दोलन कर शिवराज सरकार से मानदेय में वृद्धि कराई थी लेकिन इस सरकार ने उसे घटा दिया जबकि कांग्रेस ने अपने वचनपत्र में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं को नियमित करने का वादा किया था। उन्होंने कहा कि जून में एक पत्र जारी कर सरकार ने कार्यकर्ता के मानदेय से 1500 रुपए कम कर दिए यानि अब उसे 7000 की जगह 5500 रुपए ही मिलेंगे। ऐसे ही सहायिकाओं और अन्य पदों पर काम कर रही महिलाओं के मानदेय में 750 रुपये की कटौती की है जो अनुचित है। कमलेश शर्मा ने कहा कि हमने जुलाई में ज्ञापन देकर इस फैसले को वापस लेने की अपील सरकार से की है। यदि सरकार इसे जल्दी वापस नहीं लेती तो उसे इस धोखे की कीमत चुकानी पड़ेगी,हम उग्र आन्दोलन करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here