खदान में पार्टनर बनाने के नाम पर ज्योतिषाचार्य परिवार ने NRI से ठगे 54 लाख, पहले भी हैं मामले दर्ज

astrologer-fraud-with-nri-in-gwalior-

ग्वालियर।  शहर में रहने वाले एक शातिर ज्योतिषाचार्य ने अपने परिवार के साथ मिलकर एक NRI के साथ 54 लाख रुपए की ठगी कर ली। ज्योतिषाचार्य के परिवार ने NRI को बालाघाट में एक खदान दिखाकर  उसमें पार्टनर बनाने के ऑफर दिया और ठग लिया।  गौरतलब है कि आरोपी ज्योतिषाचार्य और उसके परिवार पर पहले से ही कई थानों में ठगी के मामले दर्ज हैं। 

पड़ाव थाने के टीआई अनिल सिंह के मुताबिक NRI संजय शर्मा की पत्नी सूक्ष्म शर्मा   2015 में  ज्योतिष कार्य और पूजा पाठ के सिलसिले में आरपी कॉलोनी निवासी ज्योतिषाचार्य मनोज शर्मा से मिली थी । कई बार मुलाकात के दौरान जान पहचान गहरी हो गई तो मनोज शर्मा ने सूक्ष्म शर्मा को सुझाव दिया कि उनके पति विदेश की नौकरी छोड़कर उनकी खनिज कम्पनी वर्षा गंगा मैटल एंड मिनरल्स लिमिटेड में उनके साथ काम करें। मनोज शर्मा ने सूक्ष्म के पति संजय को बालाघाट में खदान की लीज मिलने की बात कहकर इन्वेस्ट कर उसमें पार्टनर बनाने का ऑफर दिया। इस ऑफर के बाद मनोज ने अपने बेटे प्रफुल्ल और अरविन्द के साथ बालाघाट संजय और सूक्ष्म को बालाघाट में खदान भी दिखाई। खदान देखने के बाद संजय और उनकी पत्नी का भरोसा बढ़ गया और उन्होंने मनोज के कहने पर मनोज और उनके परिजनों को अलग अलग तारीखों में 54 लाख रुपए और दिए। लेकिन रुपए मिलने के बाद मनोज और उसके परिजनों ने संजय और सूक्ष्म के फोन उठाना बंद कर दिया ।इतना ही नहीं मनोज शर्मा अपने परिवार सहित किराये का  मकान छोड़कर ही चले गए।  पुलिस ने संजय और  सूक्ष्म की शिकायत पर ज्योतिषाचार्य मनोज शर्मा,प्रफ़ुल्ल शर्मा,वर्षा शर्मा,साक्षी शर्मा और अरविन्द कटारे के खिलाफ ठगी का मामला दर्ज कर लिया है। 

पहले से कई थानों में दर्ज हैं मामले

पिछले साल 2018 में मनोज शर्मा के खिलाफ खदान के नाम पर विवेक तोमर के साथ 30 लाख रुपए की ठगी का मामला पड़ाव थाने में दर्ज है। झांसी रोड थाने में इस साल फरवरी में कमलेश चौरसिया की रिपोर्ट पर मनोज शर्मा के खिलाफ  17 लाख की ठगी की रिपोर्ट दर्ज है। इसके अलावा एक मामला लोकायुक्त पुलिस द्वारा भिंड जिले के गोहद में डिग्री कॉलेज के निर्माण में लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों पर दर्ज भ्रष्टाचार के मामले में मनोज शर्मा सह आरोपी है। कॉलेज निर्माण का ठेका मनोज शर्मा ने लिया था।