मुख्यमंत्री के प्रतिबन्ध के बावजूद इस मंत्री ने की मीडिया से बात 

ban-of-the-Chief-Minister-this-minister-talked-to-the-media

ग्वालियर।  मुख्यमंत्री कमलनाथ के प्रतिबन्ध का उनके मंत्रियों पर असर नह��ं हो रहा है।  कृषि मंत्री सचिन यादव और सहकारिता मंत्री गोविन्द सिंह के बाद अब खाद्य मंत्री प्रद्युम्न सिंह ने भी मीडिया से बात की है।  ग्वालियर में पत्रकारों से बात करते हुए खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति  मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने ग्वालियर के विकास से जुड़े मुद्दों पर शासन की स्वीकृति की जानकारी दी।  

खाद्य मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि मुख्यमंत्री कमलनाथ और सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने गत दिवस भोपाल में ग्वालियर संभाग आयुक्त बीएम शर्मा और नगर निगम आयुक्त विनोद शर्मा के साथ बैठक कर ग्वालियर के विकास से जुडी पांच बड़ी योजनाओं पर विस्तार से चर्चा की और उसमें आ रहीं बाधाओं को हटाकर गति प्रदान की है। इनमें दो बड़ी योजना हैं एक हजार बिस्तर का अस्पताल और चम्बल से पानी लाने की योजना।  मंत्री श्री तोमर ने बताया कि जयारोग्य परिसर में बन रहे एक हजार बिस्तर के अस्पताल के निर्माण का रास्ता साफ हो गया है।  उन्होंने शिवराज सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा सरकार 2009 में भूमिपूजन कर इसे भूल चुकी है लेकिन हमारी सरकार इसका निर्माण शीघ्रता से कर मरीजों को इसकी सुविधा उपलब्ध कराएगी।  उन्होंने जानकारी दी कि अस्पताल में 25 करोड़ रुपये से पार्किंग निर्माण को स्वीकृति मिल।   जल्दी ही अस्पताल का निर्माण हो जाएगा और मुख्यमंत्री कमलनाथ और सांसद सिंधिया की मौजूदगी में इसका शुभारम्भ होगा।  

मंत्री श्री तोमर न बताया कि चम्बल से पानी लाने की बहुप्रतीक्षित योजना का रास्ता भी हमारी सरकार ने साफ़ कर दिया है। 398 करोड़ रुपये की इस योजना में 100 करोड़ रुपये की राशि देने की मंजूरी राज्य शासन दे चुका है शेष 75  प्रतिशत राशि एनसीआर बोर्ड से लोन लेने की ग्यारंटी राज्य सरकार को देनी थी जिसकी भी स्वीकृति हो गई है। उन्होंने कहा कि जल्दी ही इस योजना पर काम शुरू हो जाएगा।  उन्होंने बताया कि शहर के बीच स्थित डीआरडीई को शहर से कहीं दूसरी जगह शिफ्ट किये जाने पर शासन ने मंजूरी दे दी है और जल्दी ही इसके लिए जगह उपलब्ध कराई जाएगी। सोन चिरैया अभियारण्य के 500 वर्ग किलोमीटर एरिया में से 25  वर्ग किलो मीटर  एरिया की डिनोटिफाई किया जायेगा जिससे इस क्षेत्र में बसे 25  गाँव तक विकास को पहुंचाया जा सकेगा। इसके अलावा मुरार नदी के सौंदर्यीकरण के168 करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट को भी स्वीकृति मिल गई है।  श्री तोमर ने बताया कि इसके अलावा चंदेरी को मिनी स्मार्ट सिटी बनाया जाएगा , शिवपुरी में इंजीनियरिंग कॉलेज खोला जाएगा, गुना में स्टडियन का निर्माण कार्य एक महीने में शुरू हो जाएगा।  पत्रकार वार्ता में उनके साथ प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष  रामनिवास रावत, विधायक प्रवीण पाठक, विधायक मुन्नालाल गोयल,  जिला अध्यक्ष डॉ देवेंद्र शर्मा, जिला प्रवक्ता आनंद शर्मा और धर्मेंद्र शर्मा मौजूद थे।