Electricity : बिजली उपभोक्ताओं को बड़ी राहत, ऊर्जा मंत्री ने अधिकारियों को दिए ये निर्देश

ऊर्जा मंत्री तोमर ने कहा कि अधिक गर्मी के कारण विद्युत सप्लाई में दिक्कतें सामने आती हैं लेकिन दिक्कतों का तत्परता से निराकरण किया जाए।

ऊर्जा मंत्री

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के बिजली उपभोक्ताओं (electricity consumers) के लिए बड़ी राहत की खबर है। ऊर्जा मंत्री  प्रद्युम्न सिंह तोमर (Energy Minister Pradyuman Singh Tomar)  ने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि जिन ट्रांसफार्मरों पर अधिक लोड है उनके लोड ट्रांसफर की कार्रवाई भी प्राथमिकता से की जाए। विद्युत अवरूद्ध की शिकायतें कम हो सकें। विद्युत लाईनों पर जो पेड़ आ गए हैं उनको हटाने का कार्य जल्द करें।

यह भी पढ़े.. MP Weather: मप्र में 6 दिन पहले मानसून धमाकेदार एंट्री, इन जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

आज ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने ग्वालियर में विद्युत मण्डल कार्यालय रोशनी घर पहुँचकर विभागीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक में कहा है कि आम लोगों को विद्युत की आपूर्ति नियमित मिले, यह सुनिश्चित किया जाए। विद्युत अवरूद्ध होने के संबंध में कोई भी शिकायत मिलती है तो उसका निराकरण तत्परता से किया जाए। बिना किसी कारण के विद्युत की कटौती नहीं की जाना चाहिए। बैठक में मुख्य अभियंता  आर के गुप्ता ने ग्वालियर एवं आस-पास के जिलों में विद्युत संधारण के लिये किए जा रहे कार्यों के संबंध में विस्तार से जानकारी दी।

ऊर्जा मंत्री तोमर ने कहा कि अधिक गर्मी के कारण विद्युत सप्लाई में दिक्कतें सामने आती हैं लेकिन दिक्कतों का तत्परता से निराकरण किया जाए। आम उपभोक्ता को नियमित विद्युत प्रदाय करना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। आम उपभोक्ता की शिकायतों के निराकरण को अधिकारी सर्वोच्च प्राथमिकता दें। आँधी-तूफान से पहले विद्युत लाईनों के संधारण का कार्य तेजी के साथ किया जाए। संधारण कार्य के लिये दल बढ़ाये जाएं।

यह भी पढ़े.. AIIMS की रिपोर्ट में खुलासा- आखिर कोविशील्ड या कोवैक्सीन के बाद भी क्यों हो रहे लोग संक्रमित

ऊर्जा मंत्री तोमर ने विद्युत विभाग (electrical department) के अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे नियमित रूप से क्षेत्र का भ्रमण कर संधारण कार्य को तेजी से पूरा कराएं। विद्युत आपूर्ति के कार्य में अतिरिक्त व्यक्ति अथवा जो भी संसाधन की आवश्यकता है उसका प्रस्ताव तैयार करें। शासन स्तर से उसकी मंजूरी दिलाई जायेगी। उन्होंने यह भी आश्वस्त किया कि ग्वालियर जिले के लिये विद्युत के जो भी प्रस्ताव शासन स्तर पर हैं उनकी स्वीकृति भी यथाशीघ्र दिलाई जायेगी।

शिकायतों को होगा समाधान

वही ऊर्जा मंत्री के निर्देश के बाद अब मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी (Central Zone Electricity Distribution Company) द्वारा भोपाल (Bhopal), नर्मदापुरम, ग्वालियर (Gwalior) एवं चंबल संभाग के 16 जिलों में विद्युत देयकों से संबंधित शिकायतों के निराकरण के लिए जोन और वितरण केन्द्र स्तर पर शिकायत निवारण शिविर का आयोजन किया जाएगा। वही यह कार्य उपमहाप्रबंधक स्तर के अधिकारी तथा वितरण केन्द्र प्रभारी की उपस्थिति में किया जाएगा।

इन समस्याओं का होगा समाधान

शिकायत निवारण शिविरों में बिजली बिल संबंधित शिकायतें जिनमें समय पर बिल वितरण नहीं होना और प्राप्त नहीं होना, अधिक राशि के बिल (Electricity Bill), गलत बिल जारी होना, ऑनलाइन बिल जनरेट नहीं होना, ऑनलाइन पेमेंट अपडेट नहीं होना, मीटर संबंधी शिकायतें जिनमें समय पर रीडिंग नहीं होना, गलत रीडिंग, देरी से रीडिंग होना, ट्रांसफार्मर संबंधी शिकायतें, विद्युत प्रदाय संबंधी शिकायतें, नवीन कनेक्शन संबंधी शिकायतों का त्वरित निराकरण किया जाएगा।