भाजपा सदस्यता अभियान : विरोध में आई कांग्रेस, रोक लगाने की मांग, कोर्ट जाने की चेतावनी

ग्वालियर, अतुल सक्सेना

भारतीय जनता पार्टी अपने संभागीय सदस्यता अभियान की तैयारियों में जुटी है, उधर इसका विरोध भी शुरू हो गया है। कांग्रेस ने आयोजन के विरोध प्रशासन को पत्र लिखकर इसपर रोक लगाने की मांग की है। कांग्रेस का तर्क है कि जब सभी तरह के धार्मिक, सामाजिक और राजनैतिक कार्यक्रम प्रतिबंधित हैं तो फिर ये आयोजन क्यों हो रहा है।

कांग्रेस ने कहा कि कोरोना संक्रमण चल रहा है, आयोजन में भीड़ जुटेगी। दूसरे जिलों से लोग आयेंगे तो सोशल डिस्टेंसिंग के पालन कैसे होगा। लोगों की जान को खतरे में डालकर आयोजन नहीं होना चाहिए। यदि इसपर रोक नहीं लगाई गई तो कांग्रेस धरना प्रदर्शन करेगी और न्यायालय की शरण में जाने पर बाध्य होगी।

शहर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डाॅ. देवेन्द्र शर्मा ने कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक एवं एडीएम को भेजे गये पत्र में कहा कि कोरोना के कारण मप्र की भाजपा सरकार द्वारा निर्णय कर सभी जिला कलेक्टरों को आदेश भेजा गया है जिसमें कोरोना महामारी के चलते गणेश उत्सव प्रतिबंधित रहेंगे, ताजिए स्थापना प्रतिबंधित रहेगी, राजनैतिक, सामाजिक कार्यक्रम प्रतिबंधित रहेंगे एवं रविवार को लाॅक डाउन में सभी दुकान, व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगे जिसके कारण व्यापार और दुकानदारी चौपट होती जा रही है। सरकार के नियम के अनुसार विवाह कार्यक्रमो में 50 लोग आमंत्रित किए जायेंगे , अंतिम यात्रा में 20 लोग शामिल रहेंगे, शासकीय गैर शासकीय मैदानों, भवनों पर कार्यक्रम प्रतिबंधित रहेंगे। इसके विपरीत 22, 23 व 24 अगस्त 2020 को ग्वालियर महानगर में बाबा साहेब अंबेडकर के संविधान में निर्मित कानून एवं मप्र सरकार के कानून का उल्लंघन करते हुए भाजपा ग्वालियर चंबल संभाग का सदस्यता अभियान आयोजित करने जा रही है। मप्र शासन के आदेश का उल्लघंन एवं कानून नियम का भाजपा से पालन कराना जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन व नगर निगम का दायित्व है। अध्यक्ष डाॅ. देवेन्द्र शर्मा, जिला कार्यवाहक अध्यक्ष संगठन प्रभारी महाराज सिंह पटेल, कार्यवाहक अध्यक्ष अमर सिंह माहौर, मोहन माहेश्वरी, इब्राहिम पठान, वीर सिंह तोमर ने भेजे गये पत्र में कहा कि जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, निगम प्रशासन शासन के आदेश को कड़ाई से पालन कराने के लिये भाजपा द्वारा जो सदस्यता अभियान कार्यक्रम ग्वालियर चंबल संभाग का आयोजित किया जा रहा है उसे प्रतिबंधित किया जाए, भाजपा संविधान और कानून व सरकार के आदेशों से ऊपर नहीं है, जब प्रत्येक नागरिक नियम कानून व सरकार के आदेश का पालन कर रहा है तो भाजपा को भी कानून का पालन करना अनिवार्य है।

शहर जिला कांग्रेस कमेटी ने भेजे गए पत्र में स्पष्ट कहा कि कोरोना की महामारी के चलते प्रतिबंधित राजनैतिक, सार्वजनिक कार्यक्रम करने वाली भाजपा से कानून नियम व सरकार के आदेश का पालन करवाएं अन्यथा 22 अगस्त को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, 23 अगस्त को बाबा साहब अंबेडकर पार्क व 24 अगस्त को वीरांगना लक्ष्मीबाई समाधि स्थल पर धरने आयोजित किए जायेंगे । देश, मप्र और ग्वालियर निरंतर कोरोना की महामारी की चपेट में आ रहा है इसलिए जान और जहान को बचाना आवश्यक है। भाजपा ग्वालियर संभाग का कार्यक्रम आयोजित करके कोरोना महामारी को और अधिक फैलाना चाहती है जो जनमानस के हित में नही है। जिला प्रशासन, निगम प्रशासन, पुलिस प्रशासन ने भाजपा की हठधर्मी पर रोक नहीं लगाई तो कांग्रेस न्यायालय में जाने के लिये बाध्य होगी और गांधीवादी तरीके आंदोलन होगा, क्योंकि कांग्रेस जान को और जहान को संकट में नहीं डाल सकती।