बेकाबू भीड़ के शिकंजे से 3 लोगों को बचाने वाले दोनों पुलिसकर्मी होंगे सम्मानित

Both-policemen-who-saved-3-people-from-the-clutches-of-uncontrollable-crowd-will-be-honored

ग्वालियर। शहर में बच्चा चोरी के नाम पर हो रही मोबलिंचिंग की घटनाओं को लेकर पुलिस सतर्क हो गई है। कल शंकरपुर में हुई घटना के बाद पुलिस ने तत्काल एडवाइजरी भी जारी की है।  आईजी का कहना है कि बच्चा चोरी जैसी कोई घटना अब तक नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि कल की घटना में तीन लोगों की जान बचाने वाले दोनों सिपाहियों को 15 अगस्त को सम्मानित किया जायेगा।

बहोड़ापुर थाना क्षेत्र के शंकरपुर में कल बच्चा चोरी के शक में भीड़ ने सखी बाबा उर्फ़ पायल, दीपक खटीक और रिंकू खटीक को पकड़कर लाठी,सरियों,डंडों और लात घूंसों से मार मार कर अधमरा कर दिया था । सूचना पर मौके पर पहुंचे आरक्षक जयपाल यादव और सुशील द्विवेदी ने बड़ी मशक्कत के बाद भीड़ से तीनों को बचाया। हालात देखकर पता चल रहा था कि यदि समय पर पुलिस नहीं पहुंचती तो तीनों की जान भी जा सकती थी। घटना के बाद पुलिस ने सलमान खान, करण राजपूत और रवि खान को गिरफ्तार कर लिया। इअके अलावा कम्पू थाना क्षेत्र में भी बच्चा चोरी के शक में एक पुरुष और महिला को पकड़कर जमकर मारा। पुरुष को तो भीड़ ने खम्बे से बांधकर मारा जबकि वो हलवाई था। लेकिन उसकी किसी ने नहीं सुनी।  इसके बाद पुलिस ने एडवाइजरी जारी कर अफवाहों से बचने और कानून अपने हाथ में नहीं लेने की अपील की। पुलिस महानिरीक्षक राजाबाबू सिंह ने ऐसी घटनाओं से लोगों को सावधान रहने की अपील की है। उन्होंने कहा कि मैंने ग्वालियर जोन में आने वाले चारों जिलों से रिपोर्ट लेने के बाद एडीजीपी इंटेलिजेंस भोपाल को रिपोर्ट भेजी है कि यहाँ किसी भी तरह की बच्चा चोरी की कोई घटना दर्ज नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि अफवाह के चलते लोग कानून अपने हाथ में ले रहे हैं और लोग मोबलिंचिंग का शिकार हो रहे हैं। ये गलत है । पुलिस कानून हाथ में लेने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगी। उम्होने अफवाहों से सावधान रहने की अपील की है। आईजी ने शंकरपुर की घटना में तीन लोगों को भीड़ से बचाने वाले दोनों आरक्षकों को 15 अगस्त को सम्मानित करने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि इन दोनों ने बहादुरी और बुद्धिमानी का परिचय दिया है इसलिए सम्मान के हक़दार हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here