गृह मंत्री को मुसलमानों का जवाब, बोले- ‘तो हम भी एक मिलीमीटर पीछे नहीं हटेंगे’

ग्वालियर। देश भर में चल रहे CAA, NRC और NPR के विरोध के बीच ग्वालियर में मुस्लिम समाज ने आज अन्न जल त्याग कर धरना दिया । दिन भर चली इस भूख हड़ताल में मुस्लिम समाज ने  इसे काला कानून बताया और  कि यदि सरकार एक इंच पीछे नहीं हटना चाहती तो हम विरोध करने से एक मिलीमीटर पीछे नहीं हटेंगे। 

ऑल इंडिया उलमा बोर्ड के बैनर तले आज मुस्लिम समाज ने  फूलबाग मैदान में CAA, NRC और NPR के विरोध में धरना और भूख हड़ताल की।  गांधीवादी तरीके से आयोजित इस कार्यक्रम में आम नागरिकों के अलावा समाज के मुफ्ती, आलम, उलमा,काजी, इमाम, हाजी और हाफिजों ने शिरकत की। धरने और भूख हड़ताल में  मौजूद शहर के मुफ्ती मोहम्मद जफर नूरी के मुताबिक सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक हम सभी मुसलमानों  ने यहां रोजा रखा, धरने में ही हमने जोहर, असर और मगरिस की नमाज अदा की और मुल्क के अमन चेन के लिए दुआ मांगी। उन्होंने कहा कि आज CAA, NRC और NPR को लेकर पूरे देश मे आंदोलन चल रहे है और हुकूमत को जगाने का प्रयास किया जा रहा है । हमारी मांग है कि जनहित में यह कानून सरकार वापस ले। उन्होंने कहा कि अभी गृह मंत्री अमित शाह का बयान  आया है कि हम इस कानून को वापस लेने के लिए एक इंच भी पीछे नहीं हटेंगे तो हम उन्हें कह देना चाहते हैं कि यदि सरकार एक इंच पीछे नहीं हटेगी तो हम विरोध करने से एक मिलीमीटर भी पीछे नहीं हटेंगे।