‘चरणवंदना’ पर बोले कैबिनेट मंत्री-पता नहीं क्यों उल्टे काम करते हैं तोमर

ग्वालियर।अतुल सक्सेना।

नगर निगम अधिकारियों के साथ बीच बैठक में एक सब इंजीनियर के पैर छूने वाले खाद्य मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर को नसीहत देते हुए पशुपालन मंत्री लाखन सिंह ने नाराजगी जताई है। उनका कहना है कि पता नहीं क्यों वे उल्टा सीधा काम करते हैं, हम कैबिनेट मंत्री हैं, जो काम नहीं करे उस सस्पेंड करें ना कि पैर छूएं।

कभी सफाई के लिए तो कभी विकास कार्यों के लिए कर्मचारियों और अधिकारियों के पैर छूने वाले खाद्य मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर भले ही से उचित मानते हों लेकिन जिले के ही दूसरे मंत्री इसे गलत मानते है। प्रदेश के पशुपालन मंत्री एवं प्रद्युम्न सिंह तोमर के मित्र लाखन सिंह यादव उनके पैर छूने को अनुचित मानते है उन्होंने चुनिंदा पत्रकारों से बात करते हैं कहा कि पता नहीं प्रद्युम्न भाई ऐसे उल्टे सीधे काम क्यों करते हैं? कल वो मुझे मिले थे मैंने उन्हें समझाया भी था कि बार बार नाले में उतरकर खुद सफाई क्यों करते हो पैर क्यों छूते हो। पशुपालन मंत्री ने कहा कि मैंने उन्हें। समझाया हम सत्ता में हैं, सरकार चला रहे हैं, कैबिनेट मंत्री हैं, जो अधिकारी कर्मचारी काम नहीं करे उसे पहले समझाओ नहीं माने तो नोटिस दो उसके बाद भी नहीं माने तो सस्पेंड करवाओ। हम पैर छूने थोड़े आये हैं। उन्होंने कहा कि पैर छूना तो मेरे विवेक से पूरी तरह गलत है। उधर खाद्य मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर अपनी बात को गलत नहीं मानते उन्होंने मंत्री लाखन सिंह की बात पर कहा कि मैं सबका सम्मान करता हूँ चाहे वो कर्मचारी ही क्यों ना हो। मैं यहाँ सेवा करने आया हूँ और मुझे सफाई करने में कोई परेशानी नहीं है।।