लक्ष्मीबाई के शिलालेख पर स्याही पोतने का मामला: अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज

ग्वालियर। रानी लक्ष्मी बाई की समाधि पर लगे शिलालेख पर स्याही पोतने का मामला पुलिस तक पहुंच गया है । पड़ाव थाना पुलिस ने समाधि के चौकीदार की शिकायत पर एक दर्जन से ज्यादा अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। 

गौरतलब है कि रानी लक्ष्मीबाई की जयंती वाले दिन मंगलवार 19 नवम्बर को हिन्दू सेना ने समाधि पर लगे शिलालेख पर लिखी जानकारी को गलत और भ्रामक बताते हुए  उसपर स्याही पोत दी थी। शिलालेख में रानी को अंग्रेजों का मित्र लिखा गया है जिसपर हिन्दू सेना ने आपत्ति जताई और इस रानी का अपमान बताया था। घटना  सामने आने के बाद राज्य पुरातत्व विभाग ने पड़ाव थाने में शिकायती आवेदन देकर पुरातात्विक महत्व वाले शिलालेख से छेड़छाड़ और उसपर स्याही पोतने वालों के खिलाफ कारवाई करने की मांग की जिसके बाद पुलिस ने समाधि के चौकीदार राजेश कुशवाह की शिकायत पर पुरातत्व सर्वेक्षण अधिनियम की धारा 30 और32 के तहत एक दर्जन से अधिक अज्ञात  लोगों के। खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है । खास बात यह है कि जिस समय शिलालेख पर स्याही पोती गई उस समय मौके पर पुलिस और सुरक्षा गार्ड भी मौजूद थे। लेकिन हिन्दू सेना के लोगों को किसी ने नहीं । इस शिलालेख को करीब 4 महीने पहले प्रदेश के पुरातत्व विभाग ने लगवाया था। अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला  दर्ज करने के सवाल पर  सीएसपी रजत सकलेचा का कहना है कि हमारे पास वीडियो फुटेज है । वीडियोग्राफी के परीक्षण के बाद आरोपियों को नामजद किया जाएगा