स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 की दौड़, यहाँ कचरा ठिया बनेंगे ‘सेल्फी पॉइंट’

Cleanliness-survey-2020-race-in-gwalior-madhypradesh-

ग्वालियर ।

स्वच्छता सर्वेक्षण में लगातार पिछड़ने के बाद अब ग्वालियर नगर निगम प्रशासन एक नया प्रयोग कर रहा है। निगम आयुक्त ने आदेश दिया है कि शहर को साफ व स्वच्छ बनाने के लिए शहर के सभी कचरा ठियों को समाप्त करना है, ऐसे सभी स्थानों का ब्यूटीफिकेशन कर उन्हें सेल्फी पॉइंट के रुप में विकसित किया जाए। 

          ग्वालियर नगर निगम आयुक्त संदीप माकिन ने स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 को लेकर निगम अधिकारियों की बैठक ली तथा आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने स्वच्छता सर्वेक्षण के सभी नियमों को लेकर बिन्दुवार चर्चा करते हुए विभिन्न समस्याओं के निराकरण के निर्देश भी दिए।निगमायुक्त ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि शहर के मुख्य मार्गों के ऐसे स्थानों को चिन्हित करें जहां कचरा डलता है, उन स्थानों की पर्याप्त सफाई कराकर वहां सेल्फी पाइंट बनाएं तथा इसके लिए विभिन्न प्रकार के डिजायनर फ्रेम आदि लगाकर उन पर लाइटिंग कराएं। जिससे उस रोड से निकलने वाले नागरिक उस स्थान के प्रति आकर्षित हों और वहां खडे होकर फोटो खिंचाएं। इसके साथ ही ऐसे स्थानों पर जहां रात्रि के समय लोग कचरा डाल जाते हैं वहां स्थान चिन्हित कर रात्रि के समय टिपर वाहन खडा करवाएं जिससे लोग कचरा वाहन में ही डालें और सुबह वहां से वाहन हटा दें।

        श्री माकिन ने ईकोग्रीन कंपनी के अधिकारियों को निर्देश दिए कि सभी वार्डों में अपने वाहन लगाएं तथा शत प्रतिशत घरों से कचरा संग्रहण संग्रहण हो यह सुनिश्चित करें। उन्होंने निगम अधिकारियों को निर्देश दिए कि अभी ईकोग्रीन जिन वार्डों में कचरा संग्रहण कर रहा हैं उन वार्डों में निगम के भी कुछ वाहन चल रहे हैं उन्हें एक सप्ताह में हटाया जाए तथा ईकोग्रीन कंपनी उन स्थानों पर अपने वाहन लगाए। निगमायुक्त श्री माकिन ने बैठक में कहा कि डोर टू डोर कचरा संग्रहण वाले प्रत्येक वाहन में जीपीएस होना चाहिए तथा उनकी नियमित रुप से माॅनीटरिंग हो इसकी व्यवस्था आवश्यक रूप से करें। उन्होंने कहा कि अधिकारी सुनिश्चित करें कि बिना जीपीएस के कोई वाहन न चले ।