सीएम शिवराज पहुंचे चौपाटी, पुलाव व मंचूरियन खाकर क्या बोले, पढ़ें पूरी खबर

मुख्यमंत्री संभागीय हाट बाजार गए वहां उन्होंने स्व सहायता समूह की दीदियों द्वारा बनाये गए उत्पादों को देखा  और उनके निर्माण, बिक्री से लेकर प्रॉफिट की जानकारी ली

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। राष्ट्रीय बालिका दिवस के राज्य स्तरीय कार्यक्रम में शामिल होने आये सीएम शिवराज(CM Shivraj ) ग्वालियर शहर भ्रमण पर भी निकले। रात के समय उन्होंने रेन बसेरों का निरीक्षण किया, दीनदयाल रसोई की व्यवस्था देखी। सीएम ने ग्रामीण हाट बाजार, फूलबाग चौपाटी को भी देखा और दुकानदारों से बात की। मुख्यमंत्री ने चौपाटी पर पुलाव और मंचूरियन खाया और मीडिया के सवाल पर बोले – कम पड़ गया और खाने की इच्छा थी।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सोमवार रात को ग्वालियर भ्रमण पर निकले, उनके साथ केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, मध्य प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, राज्य मंत्री भारत सिंह कुशवाह सहित वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे।

सीएम शिवराज पहुंचे चौपाटी, पुलाव व मंचूरियन खाकर क्या बोले, पढ़ें पूरी खबर

मुख्यमंत्री सबसे पहले बस स्टेण्ड परिसर स्थित रैन बसेरा पहुँचे और वहाँ निवासरत लोगों के हालचाल जाने।  उन्होंने व्यवस्थाओं के बारे में पूछा तो लोगों ने संतोष जताया। बस स्टेण्ड परिसर में संचालित दीनदयाल रसोई में भी मुख्यमंत्री पहुँचे उन्होंने वहाँ भोजन ग्रहण कर रहे लोगों से चर्चा की। शिवपुरी से अपने पिता दुर्जन लाल कुशवाह के साथ पुलिस भर्ती की परीक्षा देने के लिये ग्वालियर आई बालिका मानवती कुशवाह भी उस समय भोजन कर रही थी। मुख्यमंत्री को अपने बीच पाकर वह खुशी से गदगद हो गई और बोली मामा जी प्लीज मेरे साथ फोटो खिचवाइए। मुख्यमंत्री ने अपनी भांजी का मान रखा और उसके साथ सेल्फी खिचवाई। स स्टेण्ड परिसर में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जरूरतमंदों को कंबल भी वितरित किए।

सीएम शिवराज पहुंचे चौपाटी, पुलाव व मंचूरियन खाकर क्या बोले, पढ़ें पूरी खबर

 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पड़ाव पुल के नीचे स्थित मंशापूर्ण हनुमान मंदिर में पूजा-अर्चना की। इसके बाद मंदिर परिसर के बाहर जमा श्रमिक एवं असहाय लोगों के बीच बैठकर उनकी दु:ख तकलीफ सुनी। चर्चा के दौरान कुछ श्रमिकों ने बताया कि शाम ढले हम लोग सरकार द्वारा संचालित दीनदयाल रसोई में भोजन करने के बाद मंशापूर्ण हनुमान मंदिर के समीप पुल के नीचे आश्रय लेते हैं। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने इन सबकी बात सुनने के बाद कलेक्टर एवं नगर निगम आयुक्त को निर्देश दिए कि इन सभी के लिये तात्कालिक रूप से रैन बसेरों में रहवास की व्यवस्था की जाए।

सीएम शिवराज पहुंचे चौपाटी, पुलाव व मंचूरियन खाकर क्या बोले, पढ़ें पूरी खबर

यहाँ से मुख्यमंत्री संभागीय हाट बाजार गए वहां उन्होंने स्व सहायता समूह की दीदियों द्वारा बनाये गए उत्पादों को देखा  और उनके निर्माण, बिक्री से लेकर प्रॉफिट की जानकारी ली। हाट बाजार से निकलकर मुख्यमंत्री फूलबाग चौपाटी पहुंचे। स्मार्ट सिटी कम्पनी द्वारा तैयार की गई फूलबाग चौपाटी के दुकानदारों से बात की। यहाँ मुख्यमंत्री ने पुलाव, मंचूरियन, बर्फी और फालूदा आइसक्रीम खाई। पुलाव और मंचूरियन खाने के तुरंत बाद चौपाटी पर मीडिया से बात  मुख्यमंत्री ने ठेले पर खाने का सामान बेचने वालों को दुकानदार बनाने के लिए नगर निगम और स्मार्ट सिटी की तारीफ की। मीडिया ने जब स्वाद के बारे में सवाल किया तो पानी पीते पीते मुख्यमंत्री ने कहा – कम पड़ गया और खाने की इच्छा हो रही थी। स्मार्ट सिटी द्वारा संचालित रीजनल आर्ट एन्ड क्राफ्ट सेंटर के एक कलाकार ने खुद के द्वारा बनाई मुख्यमंत्री की एक पेंटिंग उन्हें भेट की जिसे उन्होंने सहर्ष स्वीकार कर लिया।