विकास मामले में कांग्रेस हमलावर “किसी प्रभावी भाजपा नेता ने एक सोची समझी नीति के तहत करवाया पेश”

ग्वालियर।अतुल सक्सेना

मध्यप्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता एवं ग्वालियर चंबल संभाग के मीडिया प्रभारी केके मिश्रा ने कानपुर के कुख्यात अपराधी विकास दुबे की प्रदेश के उज्जैन से गिरफ्तारी पर भाजपा पर निशाना साधा है । सोशल मीडिया पर उन्होंने पोस्ट जारी करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह पर तंज कसा है।

केके मिश्रा ने लिखा कि “8 पुलिसकर्मियों को शहीद करने वाला UP का भाजपा के राष्ट्रीय नेताओं से संरक्षित हत्यारा उज्जैन से गिरफ्तार! शिवराज जी,क्या कारण है कि जो कुख्यात गुंडे, अपराधी,हर किस्म में माफिया कमलनाथ जी के कारण राज्य छोड़कर भाग खड़े हुए थे, आज आपके आते ही मप्र अन्य राज्यों के अपराधियों का भी अभ्यारण क्यों बन गया है? दुर्द्धान्ध अपराधी विकास दुबे का सही सलामत पकड़ा जाना (एनकाउंटर क्यों नहीं) अनेक शंका-कुशंकाओं को जन्म दे रहा है,क्या उसे किसी प्रभावी भाजपा नेता ने एक सोची समझी नीति के तहत पेश करवाया है,जो प्रदेश के मुखिया ने नाते आपके बिना असंभव है?? लगता है,गुजरात के बाद मप्र को अपना नाम बदलकर “अपराधियों के अभ्यारण प्रदेश” के रूप में तब्दील कर देना चाहिए???क्योंकि आप और आपकी हत्यारी विचारधारा को पुलिस (शहीदों )के मान से अधिक अपराधियों की शान,भाजपा नेतृत्व के मान-अभिमान की चिंता है? मिश्रा ने पोस्ट के आखिर में लिखा, “महाराज,नाराज़,शिवराज और अब गुंडाराज!!! अब आगे क्या? ये पोस्ट सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है।

विकास मामले में कांग्रेस हमलावर “किसी प्रभावी भाजपा नेता ने एक सोची समझी नीति के तहत पेश करवाया है”

ग्वालियर। मध्यप्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता एवं ग्वालियर चंबल संभाग के मीडिया प्रभारी केके मिश्रा ने कानपुर के कुख्यात अपराधी विकास दुबे की प्रदेश के उज्जैन से गिरफ्तारी पर भाजपा पर निशाना साधा है । सोशल मीडिया पर उन्होंने पोस्ट जारी करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह पर तंज कसा है।

केके मिश्रा ने लिखा कि “8 पुलिसकर्मियों को शहीद करने वाला UP का भाजपा के राष्ट्रीय नेताओं से संरक्षित हत्यारा उज्जैन से गिरफ्तार! शिवराज जी,क्या कारण है कि जो कुख्यात गुंडे, अपराधी,हर किस्म में माफिया कमलनाथ जी के कारण राज्य छोड़कर भाग खड़े हुए थे, आज आपके आते ही मप्र अन्य राज्यों के अपराधियों का भी अभ्यारण क्यों बन गया है? दुर्द्धान्ध अपराधी विकास दुबे का सही सलामत पकड़ा जाना (एनकाउंटर क्यों नहीं) अनेक शंका-कुशंकाओं को जन्म दे रहा है,क्या उसे किसी प्रभावी भाजपा नेता ने एक सोची समझी नीति के तहत पेश करवाया है,जो प्रदेश के मुखिया ने नाते आपके बिना असंभव है?? लगता है,गुजरात के बाद मप्र को अपना नाम बदलकर “अपराधियों के अभ्यारण प्रदेश” के रूप में तब्दील कर देना चाहिए???क्योंकि आप और आपकी हत्यारी विचारधारा को पुलिस (शहीदों )के मान से अधिक अपराधियों की शान,भाजपा नेतृत्व के मान-अभिमान की चिंता है? मिश्रा ने पोस्ट के आखिर में लिखा, “महाराज,नाराज़,शिवराज और अब गुंडाराज!!! अब आगे क्या? ये पोस्ट सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है।