ग्वालियर, डेस्क रिपोर्ट

ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) का विरोध करने सड़कों पर उतरी कांग्रेस (Congress) ने आज जोरदार हंगामा किया। कांग्रेस नेताओं ने शहर में जोरदार नारेबाजी की और सिंधिया के खिलाफ आक्रोश जताया। खास बात ये रही कि विरोध जताने के लिए महिलाओं ने अलग रूप धारण किया वे काले कपड़े पहनकर काले झंडे लेकर उतरी लेकिन पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

ग्वालियर (Gwalior) में संभाग स्तरीय सदस्यता ग्रहण समारोह में अपने समर्थकों को भाजपा (BJP) में शामिल कराने आये ज्योतिरादित्य सिंधिया का कांग्रेसियों ने जोरदार विरोध किया। कांग्रेस नेताओं ने हाथों में पार्टी के झंडे के अलावा काले झंडे भी लिए और सिंधिया विरोधी नारे लगाए। उधर महिला नेत्रियों ने विरोध का अलग ही तरीका निकाला। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की सदस्य एवं पूर्व युवा कांग्रेस अध्यक्ष रश्मि पवार शर्मा के नेतृत्व में सिंधिया का जोरदार विरोध किया गया। रश्मि काले कपड़े पहने, सिर पर काला कपड़ा बांधे और हाथ में काला झंडा लिए सिंधिया का विरोध कर रही थी। उनके साथ रुचि राय ठाकुर, शांति कुशवाह आदि महिला नेत्रियाँ भी काले कपड़े पहनकर विरोध कर रही थी। ये महिला नेत्रियां नारे लगा रही थी ” देखो देखो कौन आया, गीदड़ आया गीदड़ आया”…।उधर कांग्रेस के प्रदर्शन को गैर कानूनी बताते हुए पुलिस ने इन्हें गिरफ्तार कर लिया। रश्मि पवार शर्मा ने एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ से बात करते हुए कहा कि जैसे राक्षसों का संहार करने के लिए देवी ने चंडी का रूप रखा था वैसे ही लोकतंत्र की हत्या करने वाले राक्षसों का संहार करने के लिये हमने भी चंडी का रूप लिया था। लेकिन प्रशासन ने पुलिस के जोर से हमारा लोकतांत्रिक अधिकार हमसे छीन लिया और जेल भेज दिया।