दो साल से फरार कांग्रेस नेता बेटे सहित गिरफ्तार, तीन बेटे अब भी फरार, ये है मामला

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। ग्वालियर में दो साल पहले टोल मैनेजर और कर्मचारी का अपहरण कर उसे बंधक बनाकर मारपीट के मामले में फरार कांग्रेस नेता, उसके बेटे और उसके दोस्त को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। घटना 2019 की है, पुलिस तभी से लगातार आरोपियों की तलाश कर रही थी। मामले में अभी भी कांग्रेस नेता के तीन बेटे फरार हैं, जिनकी पुलिस तलाश कर रही है।

जिले की पनिहार थाना पुलिस ने जनवरी 2019 से फरार चल रहे अपहरण और मारपीट के आरोपी कांग्रेस नेता को उसके बेटे और बेटे के दोस्त के साथ गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि मुखबिर के द्वारा सूचना मिली थी कि फरार कांग्रेस नेता कल्याण सिंह, उसका बेटा सत्येंद्र और उसका दोस्त सोनू के साथ घर आया हुआ है। तभी पुलिस ने घर पहुंचकर घेराबंदी की और कांग्रेस नेता कल्याण सिंह उसके बेटे सत्येंद्र और दोस्त सोनू यादव को दबोच लिया।

पनिहार थाना प्रभारी प्रवीण शर्मा ने बताया कि आरोपियों ने 2 साल पहले 12 जनवरी 2019 की रात पनिहार टोल प्लाजा के मैनेजर जगतपाल सिंह और कर्मचारी राहुल का अपहरण किया था। दोनों को पनिहार निवासी कांग्रेस नेता कल्याण सिंह सोलंकी के इशारे पर उनके बेटे जयंत सोलंकी, सत्येंद्र सोलंकी , पुष्पेंद्र सोलंकी, बबलू सोलंकी और उनका दोस्त सोनू यादव उठाकर लाए थे। आरोपियों ने टोल नाके के दोनों कर्मचारियों को अपने ढाबे में लाकर बंधक बनाया और उनको बंधक बनाकर उनके साथ मारपीट की थी। इनके चंगुल से छूटने के बाद मैनेजर और कर्मचारी ने थाने पहुंचकर शिकायत की थी। तभी से सभी आरोपी फरार हो गए थे। पुलिस ने अपहरण कर बंधक बनाकर मारपीट का मामला दर्ज किया था। और आरोपियों की तलाश जारी थी फिलहाल पुलिस ने पकड़े गए तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर कांग्रेस नेता के तीन फरार बेटों जयंत, पुष्पेंद्र और बबलू की तलाश शुरू कर दी है।