कांग्रेस नेता राजा पटेरिया की बढ़ी मुश्किलें, ADJ कोर्ट ने भी रद्द किया जमानत आवेदन

Raja Patria’s bail application cancelled : कांग्रेस नेता एवं पूर्व मंत्री राजा पटेरिया की मुश्किलें बढती जा रही हैं , बुधवार को ग्वालियर जिला न्यायालय की स्पेशल MP/MLA कोर्ट में जमानत याचिक ख़ारिज हो जाने के बाद राजा पटेरिया की तरफ से ग्वालियर ADJ कोर्ट में जमानत याचिका लगाई थी जिसे आज गुरुवार को कोर्ट ने ख़ारिज कर दिया, ADJ कोर्ट ने शासकीय अधिवक्ता द्वारा पेश किये गए तर्कों से सहमति जताते हुए जमानत देने से इंकार कर दिया है।

ADJ कोर्ट ने ख़ारिज की जमानत अर्जी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के खिलाफ अमर्यादित टिप्पणी कर फंसे पूर्व मंत्री एवं कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष राजा पटेरिया की मुश्किलें बढती (Congress leader Raja Patria’s problems increased) जा रही हैं। ग्वालियर की स्पेशल कोर्ट (Gwalior Special Court) से आज उन्हें लगातार दूसरा बड़ा झटका लगा, स्पेशल ADJ कोर्ट ने राजा पटेरिया की जमानत आवेदन को बहस के बाद खारिज कर दिया।

दोनों पक्षों के वकीलों ने पेश की दलीलें

राजा पटेरिया की तरफ से पूर्व महाधिवक्ता राजीव शर्मा ने दलील दी थी कि राजा पटेरिया को झूठे मामले में न्यायिक हिरासत में रखा गया है। जबकि जो वीडियो है, वह पूरा वीडियो नहीं है, साथ ही उन्होंने कोर्ट को पूरा वीडियो भी दिखाया। लेकिन शासन के एडीपीओ अभिषेक मेहरौत्रा ने कहा कि देश के वर्तमान प्रधानमंत्री के विरुद्ध आपत्तिजनक टिप्पणी की है, जिससे जनमानस की भावनाएं आहत होती हैं, देश के संवैधानिक तंत्र पर प्रतिकूल प्रभाव पडता है।

ADPO ने पूर्व के अपराधों का भी तर्क दिया

ADPO अभिषेक मेहरौत्रा ने तर्क दिया कि राजा पटेरिया पर पूर्व में भी अपराध दर्ज है राजा पटेरिया के द्वारा आदिवासियों को नक्सली बनाने के लिए प्रेरित किया गया था। ऐसे में इस तरह के अपराधी को जमानत देना उचित नहीं है। दोनों पक्षों को सुनने के बाद विशेष न्यायाधीश सुशील कुमार जोशी की कोर्ट ने जमानत आवेदन को खारिज कर दिया है।

14 दिन की न्यायिक हिरासत में हैं राजा पटेरिया

राजा पटेरिया के वकील का कहना है वह अब इस मामले को हाई कोर्ट लेकर जाने पर विचार करेंगे। आपको बता दें कि 11 दिसंबर को पूर्व मंत्री राजा पटेरिया ने पन्ना जिले के पवई में मंडलम में कार्यकर्ताओं से बात कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अमर्यादित टिप्पणी की थी जिसके बाद गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा के निर्देश पर FIR दर्ज कर राजा पटेरिया को गिरफ्तार कर पुलिस ने न्यायालय में पेश किया था जिअहन से उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है, अभी वो जेल में हैं ।

प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ दिया था आपत्तिजनक बयान

दरअसल पिछले दिनों 11 दिसंबर को पन्ना जिले के पबई में रेस्ट हॉउस में आयोजित कांग्रेस की एक बैठक आयोजित की गई थी उसका एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें राजा पटेरिया अपने संबोधन में कहते सुनाई दे रहे हैं – मोदी इलेक्शन ख़त्म कर देगा। जाति, धर्म और भाषा के आधार पर बांट देगा। संतों का, आदिवासियों का, अल्पसंख्यकों का भावी जीवन खतरे में हैं। संविधान को बचाना है तो मोदी की हत्या के लिए तत्पर रहो, इन द सेन्स उनको हराने के लिए काम करो।

ग्वालियर से अतुल सक्सेना की रिपोर्ट