ड्यूटी कर सोए कॉन्स्टेबल की रात को बिगड़ी तबियत, अस्पताल में मौत

Constable-death-in-hospital

ग्वालियर । जिले की डीआरपी लाइन में ड्यूटी कर सोए एक कॉन्स्टेबल की आधी रात को अचानक तबीयत खराब हो गई। उसे जयारोग्य अस्पताल के ICU में भर्ती कराया गया जहां इलाज के दौरान आज सुबह उन्होंने दम तोड़ दिया। कॉन्स्टेबल शुगर पेशेंट थे, उधर मौत के पीछे गर्मी भी वजह हो सकती है हालाँकि ये पीएम रिपोर्ट के बाद पता चल सकेगा। 

दो दिन पहले जीआरपी में पदस्थ एक आरक्षक विनोद सिंह की  गर्मी के चलते हुई मौत के बाद आज एक और कॉन्स्टेबल की मौत हो गई।  आशंका जताई जा रही है कि भीषण गर्मी के चलते पहले से शुगर के मरीज कॉन्स्टेबल रामसेवक शर्मा  की तबीयत खराब हुई थी। फिलहाल पुलिस ने पोस्टमार्टम कराने के बाद लाश को परिजनों के सुपुर्द कर दिया है ।  जानकारी के अनुसार ग्वालियर के सिकंदर कंपू में स्थित तेरहवीं बटालियन में कॉन्स्टेबल के रूप में पदस्थ राम सेवक शर्मा की ड्यूटी डीआरपी लाइन में लगी थी। शुक्रवार को उन्होंने रात 9 से 11 ड्यूटी करने के बाद आराम के लिए वहां बनी बैरक में अपने बिस्तर बिछा लिए और सो गए रात 3  बजे अचानक उनकी तबीयत खराब होने लगी । पास में सो रहे दूसरे सिपाहियों  को जैसे ही राम सेवक की तबियत ख़राब दिखाई दी तो उन्होंने  अफसरों को सूचना दी जिसके बाद  तत्काल पुलिस वैन से आरक्षक राम सेवक शर्मा को जयारोग्य अस्पताल के ICU में भर्ती कराया गया। लेकिन सुबह 7 बजे इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। मृतक के पुत्र विवेक के मुताबिक उन्हें शुगर की बीमारी थी। वे रात को घर से ठीक गए थे सुबह उनकी तबियत ख़राब होने की सूचना DRP लाइन से उन्हें दी गई। और थोड़ी ही देर बाद उनकी मौत हो गई।  वहीं डीआरपी लाइन के निरीक्षक लालता प्रसाद दोहरे के का कहना था  कि कॉन्स्टेबल राम  सेवक की तबियत  को देखते हुए उनसे हल्के-फुल्के काम ही लिए जाते थे  रात को जैसे ही उनकी तबियत बिगड़ी उन्हें तत्काल अस्पताल ले जाया गया । डॉक्टर्स के मुताबिक उस समय उनका शुगर लेवल 500 से अधिक् था। उनके शव का पोस्ट मार्टम कराया गया है । उअमेन ही उनकी मौत की वजह निकलकर सामने आयेगी।