कोरोना इफेक्ट : मेडिकल कॉलेज के प्रभारी डीन को हटाया, MP का पहला मामला

ग्वालियर।अतुल सक्सेना।

प्रदेश में कोरोना के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए राज्य सरकार और जिला प्रशासन जहाँ एहतियातन उपाय कर रहा है तो वहीं लापरवाही पर सजा भी दे रहा है। इसी क्रम में मंगलवार को ग्वालियर मेडिकल कॉलेज की प्रभारी डीन डॉ सरोज कोठारी को हटा दिया गया। उनके स्थान पर JAH के प्रभारी संयुक्त संचालक डॉ अशोक मिश्रा को डीन बनाया गया है।

संभाग आयुक्त एमबी ओझा ने मंगलवार को एक पत्र जारी करते हैं आदेश दिया कि गजराराजा चिकित्सा महाविद्यालय की प्रभारी डीन डॉ सरोज कोठारी की तैयारी संतोषजनक नहीं होने के कारण कोरोना वायरस के नियंत्रण एवं अन्य प्रशासकीय व्यवस्थाओं को देखते हुए उनके स्थान पर आगामी आदेश तक अस्थाई रूप से पीएसएम विभाग के प्रोफेसर एवं विभागाध्यक्ष डॉ अशोक मिश्रा को मेडिकल कॉलेज का डीन किया जाता है। साथ ही उनसे जयारोग्य अस्पताल समूह के प्रभारी संयुक्त संचालक का अतिरिक्त प्रभार लेकर चेस्ट एवं टीवी विभाग के प्रोफेसर एवं विभागाध्यक्ष डॉ केके तिवारी को दिया जाता है। माना जा रहा है कि कोरोना मामले में लापरवाही को लेकर किसी अधिकारी के तबादले का ये प्रदेश का पहला मामला है।

गौरतलब है कि सोमवार को ग्वालियर दक्षिण विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक जयारोग्य अस्पताल पहुंचे थे और उन्होंने कोरोना के मरीजों के लिए बनाये गए आइसोलेशन वार्ड सहित अन्य व्यवस्थाओं पर नाराजगी जताई थी। इस दौरान मेडिकल कॉलेज की प्रभारी डीन डॉ सरोज कोठारी विधायक की बहुत से बातों का जवाब नहीं दे पाईं थी। विधायक पाठक ने मौके पर कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह, JAH के प्रभारी अधीक्षक डॉ अशोक मिश्रा, CMHO डॉ एस के वर्मा को मौके पर ही बुलाकर कड़ी आपत्ति दर्ज कराई थी और व्यवस्थाओं को सुधारने की चेतावनी दी थी। इसलिए इस तबादले को विधायक की फटकार के रूप में लिया जा रहा है । उधर ये भी माना जा रहा है कि चूंकि डॉ अशोक मिश्रा के भाजपा नेताओं से अच्छे संबंध हैं इसलिए भोपाल से आदेश आने तक संभाग आयुक्त से आदेश निकलवाकर उन्हें डीन बनाया गया है।