नाबालिग के साथ छेड़खानी के आरोपी की लाठियों से पीट पीट कर हत्या

culprit-killed-in-gwalior

ग्वालियर । शहर के गिरवाई इलाके में एक किशोर की पीट-पीटकर हत्या किए जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। हत्या का आरोप नाबालिग लड़की के परिजनों पर है। जिन्होंने शुक्रवार को मृतक पवन परिहार के खिलाफ छेड़खानी और पास्को एक्ट की धाराओं के तहत गिरवाई थाने में मामला दर्ज कराया था।

पुलिस के मुताबिक शुक्रवार को 12 साल की नाबालिग के परिजनों ने पवन परिहार के खिलाफ छेड़खानी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पवन पनिहार का रहने वाला था और गिरवाई इलाके में स्थित एक टेंट हाउस पर मजदूरी करता था। पुलिस ने पवन के खिलाफ टेंट हाउस के नजदीक रहने वाले बघेल परिवार की एक 12 साल की लड़की के साथ छेड़खानी का मामला दर्ज किया था। पुलिस जब छेड़खानी की घटना का मौका मुआयना करने मौके पर पहुंची तो खेत में पवन परिहार बेहद गंभीर और लहूलुहान हालत में मिला था। पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया था जहां रविवार को उसकी मौत हो गई । घटना के बाद पुलिस ने मृतक के शव का पोस्ट मार्टम कराया है। थाना प्रभारी वीर सिंह ठाकुर के अनुसार घटना के बाद आरोपी अलबेल सिंह, केदार और बृजेंद्र के खिलाफ हत्या की कोशिश का मामला दर्ज किया गया था जिसे अब हत्या में तब्दील कर दिया गया है। उधर परिजनों ने आरोप लगाया है पवन अपने टेंट हाउस मालिक से मजदूरी के पैसे लेने गया था ।उसके बाद से ही उसका पता नहीं  चल रहा था। उन्होंने पवन पर छेड़खानी करने के आरोप को भी खारिज किया है।उन्होंने कहा है कि हत्या को छुपाने के लिए इस तरह के आरोप लगाए जा रहे हैं। जबकि पुलिस का कहना है कि पवन के खिलाफ शुक्रवार को मामला दर्ज किया गया था और पवन के जख्मी हालत में मिलने के बाद लड़की के परिजनों पर भी मामला दर्ज किया गया था। गिरवाई पुलिस ने इस मामले में आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है ।