मंत्री साधौ का तंज, ‘मामा ने किया प्रदेश जर्जर, नाना ने बजट ही काट दिया’

ग्वालियर । आयुर्वेदिक कॉलेज आयुष विभाग द्वारा का स्थापित की गई शासकीय औषधि  परीक्षण  प्रयोगशाला शुभारंभ करने आई चिकित्सा शिक्षा  एवं आयुष विभाग की मंत्री डॉ विजयलक्ष्मी साधौ ने भाजपा पर निशाना साधते हुए मामा- नाना की जोड़ी पर कटाक्ष किया। उन्होंने कहा कि मामा शिवराज सिंह ने शासनकाल के बाद मध्यप्रदेश हमें  जर्जर  मिला  और नानाजी प्रधानमंत्री नरेन्द्र  मोदी ने बजट में 27 करोड़ का बजट कटौती कर दी। जिसके चलते हमे सीमित साधनों में राज्य चलाना पड़ रहा है। 

मंत्री विजयलक्ष्मी साधौ ने आज शासकीय आयुर्वेदिक कॉलेज में औषधि परीक्षण प्रयोगशाला का उदघाट्न किया । इस अवसर पर विधायक मुन्नालाल गोयल,  विधायक प्रवीण पाठक आयुष के सीएस संजीव झा प्रमुखता से मौजूद थे ।  लैब की स्थापना की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि इससे इस अंचल में औषधि परीक्षण में बहुत मदद मिलेगी । कार्यक्रम के बाद मीडिया से चर्चा करते हुए मंत्री ने कहा कि हमारी  सरकार प्रदेश को बेहतर बनाने के प्रयास लगातार कर  रही है लेकिन केंद्र सरकार मदद नहीं कर रही।  उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह पर आरोप। लगाते हुए कहा कि मामा ने हमें जर्जर मध्यप्रदेश दिया और नाना यानि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 27 करोड़ का बजट काट दिया फिर भी हम ऐसे हालात में  प्रदेश को बेहतर बनाने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने पीसीसी चीफ के चय़न और दिग्विजय के बयान पर कहा कि नया पीसीसी चीफ तो आलाकमान ही  तय करेगा। दिग्विजय सिंह के संगठन को मजबूत करने की जरुरत वाले बयान पर साधौ बोली कि मेरी सोच है कि प्रदेश में संगठन मजबूत था, है और रहेगा दिग्विजय सिंह जी की अपनी सोच है। 

चिकित्सा शिक्षा मंत्री  ने कहा कि प्रदेश के अस्पतालों में डॉक्टरों की कमी है लेकिन उसकी भरपाई हम 2022 तक कर देंगे।वही ट्राइवलएरिया में डॉक्टरों को स्पेशल पैकेज और नए डिग्री धारी डाक्टरों को रिमोट एरिया में सर्विस देना आवश्यक बताते हुए डॉ साधौ ने बताया जो डॉक्टर सर्विस नहीं  देंगे उनका रजिस्ट्रेशन खत्म हो जायेगा  सरकार ये कदम जल्दी ही उठाने जा रही है।  ग्वालिय़र में डॉक्टरों और प्रशासन के टकराव पर साधौ ने दोनों पक्षों को अपना अपना काम करने की सलाह देते हुए उन्होंने नसीहत भी दी ।