चहेतों को लाभ पहुंचाने जीआर मेडिकल कॉलेज में अधिष्ठाता ने किया फेरबदल

-Deacon-made-changes-in-GR-Medical-College-to-benefit-the-favorite-

ग्वालियर । पिछले दिनों ही हुई नए डीन की नियुक्ति और सरकार बदलने का असर गजराराजा चिकित्सा महाविद्यालय एवं जयारोग्य अस्पताल के अधिकारियों ने फेरबदल की कवायद शुरू कर दी है। चिकित्सा महाविद्यालय प्रबंधन ने अपने चहेतों को लाभ पहुंचाने के लिए कई चिकित्सकों के प्रभार खत्म कर अपने चहेतों को सौंप दिए हैं। 

चिकित्सा महाविद्यालय के अधिष्ठाता ने कई विभाग प्रमुखों को इधर से उधर किया है ऐसे में उनहोंने एक ऐसे चिकित्सक को लीगल सेल का प्रभार सौंप दिया है, जिनकी संभाग आयुक्त ने कुछ दिनों पहले ही दो वेतन वृद्धि रोक दी थीं। अधिष्ठाता ने लीगल सेल का प्रभार डॉ. एस के शर्मा से छीनकर डॉ अक्षय निगम को सौंप दिया है। चिकित्सा महाविद्यालय में योजना विकास का प्रभार डॉ. देवेन्द्र कुशवाह से छीनकर न्यूरोलॉजी के विभागाध्यक्ष डॉ. दिनेश उदैनिया को सौंप दिया है।  इसी तरह पुस्तकालय का प्रभार डॉ. दिलीप कोठारी को सौंपा गया है। इतना ही नहीं अधिष्ठाता डॉ. भरत जैन ने स्थापना का प्रभार अपनी पत्नी डॉ. सविता भरत जैन को सौंप दिया है, जबकि खेल अधिकारी डॉ. अचल गुप्ता को हटाते हुए उनकी जगह खेल अधिकारी डॉ. संजय धवले को बनाए जाने के साथ ही अन्य के भी प्रभार बदले गए हैं। यह फेरबदल चिकित्सा महाविद्यालय में चर्चाओं का विषय बना हुआ है। माना जा रहा  है कि जिन चिकित्सकों के प्रभार बदले गए  है उनकी सत्ता पक्ष से नजदीकियां है ।