धरने में शामिल कांग्रेस विधायक के जूते हुए चोरी तो लिया ये बड़ा संकल्प…

कई घंटों की मशक्कत के बाद भी जब जूते नहीं मिले तो विधायक जी धरना स्थल के पास ही बहुत देर तक पैरों में मोजे पहने ही यहाँ वहाँ टहलने लगे और फोन पर बात करते रहे उन्हें इंतजार था नई जूते आने का।

ग्वालियर अतुल सक्सेना। प्रदेश उपाध्यक्ष अशोक सिंह (Ashok singh) के समर्थन में आयोजित पार्टी के धरने में शामिल होने आए शिवपुरी जिले की करैरा विधानसभा से कांग्रेस विधायक प्रागीलाल जाटव (Pragilal jatav)  के जूते (shoes) धरना स्थल से चोरी हो गए। जब धरना (Dharana) खत्म हुआ तो विधायक अपने जूतों की तरफ बढ़े लेकिन वो वहाँ से गायब थे। विधायक के जूते चोरी होने की खबर लगते ही कांग्रेस कार्यकर्ता (Congress worker) जूते ढूँढने का प्रयास करने लगे। जब जूते नहीं मिले तो विधायक बिना जूतों के ही मोजे पहने अपनी गाड़ी की तरफ बढ़ने लगे मीडिया ने जब उनसे बिना जूते पहने जाने का कारण पूछा तो विधायक पहले तो बचते रहे बाद में उन्होंने कहा कि अब मैं तीन साल बाद कांग्रेस की सरकार बनने के बाद ही जूते पहनूँगा तब तक हमने जूते त्याग दिये हैं।

कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष एवं एपेक्स बैंक के पूर्व अध्यक्ष अशोक सिंह (Ashok singh) के बालाजी मैरिज गार्डन (Balaji Marriage Garden) पर हुई प्रशासन की अतिक्रमण विरोधी कार्रवाई का कांग्रेस विरोध कर रही है। कार्रवाई के पीछे ज्योतिरादित्य सिंधिया का हाथ बताते हुए कांग्रेस ने शुक्रवार को सिंधिया के पुतले जलाये और शनिवार को फूलबाग पर धरना दिया। धरने में शिवपुरी जिले की करैरा विधानसभा के कांग्रेस विधायक प्रागीलाल जाटव भी शामिल होने आये। जब धरना खत्म हुआ तो वे अपने जूते की तरफ बढे तो वहाँ से गायब थे यानि जूते चोरी हो चुके थे। मौके पर मौजूद कांग्रेस कार्यकर्ता विधायक जी के जूते ढूँढने लगे लेकिन सफल नहीं हुए। कई घंटों की मशक्कत के बाद भी जब जूते नहीं मिले तो विधायक जी धरना स्थल के पास ही बहुत देर तक पैरों में मोजे पहने ही यहाँ वहाँ टहलने लगे और फोन पर बात करते रहे उन्हें इंतजार था नई जूते आने का। विधायक जी के लिए नये जूते आते उससे पहले मीडिया वहाँ पहुँच गई। मीडिया को देखकर विधायक जी इधर उधर देखने लगे, मीडिया से बचने लगे। मीडिया ने जब उनसे जूते चोरी होने और उनके सिर्फ मोजे में घूमने का कारण पूछा तो उन्होंने हँसते हुए अब हम तीन साल बाद कांग्रेस की सरकार बनने के बाद ही जूते पहनेंगे, तब तक के लिए हमने जूते त्याग दिये हैं। विधायक जी ने बड़ा संकल्प ले डाला। विधायक प्रागीलाल जाटव जब मीडिया से बात का रहे थे तभी उनके साथ मौजूद कार्यकर्ता ने कहा कि जूते भाजपा के लोगों ने चुरा लिए हैं। बाद में विधायक प्रागीलाल मुस्कुराते हुए नीचे सिर किये हुए ये कहते आगे बढ़ गए कि जूते गाड़ी में हैं लेकिन सच तो ये था कि गाड़ी में जूते नहीं थे वे चोरी हो गए थे। अब जब से विधायक जी के जूते चोरी हुए हैं तब से भाजपा के कार्यकर्ताओं के बीच ये मजाक का विषय बन गया है । भाजपा तंज कस रही है कि जिस पार्टी का विधायक अपनी पार्टी के कार्यक्रम में ही अपने जूते नहीं बचा पाए वो सत्ता में आने के बाद प्रदेश क्या बचायेंगे.?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here