dogs-lovers-have-to-give-information-in-nagar-nigam

ग्वालियर । शहर के मुरार में चार साल की मासूम रोशनी की कुत्ते के काटने से हुई मौत के बाद जिला प्रशासन सख्त हो गया है । घटना के बाद आज कलेक्टर अनुराग चौधरी ने नगर निगम आयुक्त को निर्देश दिए कि सभी 60 वार्डों में आवारा पशुओं की धरपकड़ के लिए अभियान चलाया जाये और इसकी शुरुआत कल यानि 30 मई से ही की जाए । कलेक्टर ने निर्देश दिए कि अब से घरों में कुत्ता पालने वालों को नगर निगम के क्षेत्रीय कार्यालयों पर सूचना देना अनिवार्य होगा।

कलेक्टर अनुराग चौधरी ने कहा कि गत दिवस ग्वालियर शहर में एक कुत्ते द्वारा छोटी बच्ची को काटने से हुई दु:खद घटना को देखते हुए यह अभियान चलाना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की घटना की पुनरावृत्ति न हो, यह जरूरी है। उन्होंने नगर निगम आयुक्त संदीप माकिन को निर्देशित किया कि शहर के सभी वार्डों में 30 मई की प्रात:काल से ही यह अभियान चलाया जाए। अभियान के तहत आवारा पशु (कुत्ता, सांड) आदि को पकड़ने की कार्रवाई की जाए। इसके साथ ही सभी शहरी क्षेत्र में जिनके घरों में पशु पाले हैं, उन्हें नगर निगम के क्षेत्रीय कार्यालय पर सूचना देना आवश्यक किया जाए। कुत्ता पालने वाले सभी रहवासी अपने घर के बाहर एक बोर्ड पर कुत्ता पालने की सूचना भी आवश्यक रूप से अंकित करें। कलेक्टर ने यह भी कहा कि शहरी क्षेत्र में कहीं भी आवारा पशु या कुत्ते को पकड़वाने के लिए निगम की वेबसाइट gwaliormunicipalcorporation.org, निगम कंट्रोल रूम नं. 0751-2438387 पर भी सूचनाएं संकलित की जाकर कार्रवाई की जाए। इसके साथ ही निगम का अमला आवारा पशुओं को पकड़ने की कार्रवाई प्रभावी रूप से करे। कलेक्टर श्री चौधरी ने शहर के आम नागरिकों से भी अपील की है कि वे अपने घरों में पाले जाने वाले कुत्ते पर सतत निगरानी रखें और आस-पास भी कोई आवारा पशु या कुत्ता घूम रहा हो तो उसकी सूचना निगम को अवश्य दें, ताकि उसको पकड़ने की कार्रवाई की जा सके। उन्होंने यह भी कहा है कि मानव जीवन की सुरक्षा सर्वोपरि है। इस बात का हम सबको ध्यान देना चाहिए।